संवाद सूत्र, किशनपुर(सुपौल): कार्तिक पूर्णिमा के अवसर पर प्रखंड के मलाढ़ पंचायत स्थित महीपट्टी गांव में आयोजित दो दिवसीय कुश्ती प्रतियोगिता का शुभारंभ बुधवार को डीएसपी विद्यासागर ने फीता काट कर किया। उद्घाटन के बाद डीएसपी ने कहा कि भारतीय सभ्यता एवं संस्कृति की पहचान कुश्ती आज विलुप्तता के कगार पर है। चूंकि, आम लोगों की रूचि अन्य खेलों की ओर तेजी से बढ़ रही है। ऐसे में इस तरह के प्रतियोगिताओं का आयोजन निस्संदेह कुश्ती एवं अखाडे़ के प्रति लोगों को अग्रसारित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा। कहा कि कुश्ती हमारी प्राचीन संस्कृति है और ग्रामीण क्षेत्रों में अभी भी हमारे पूर्वजों की विरासत कुश्ती और कबड्डी जैसे शारीरिक बल व स्फूर्ति के खेलों में बाकी है जो अब धीरे-धीरे लुप्त होती जा रही है। वहीं आज के युवा खुले माहौल के खेलों की बजाय धीरे-धीरे इनडोर और अब कंप्यूटर खेलों तक सीमित रह गए हैं। उन्होंने युवाओं से कुश्ती व कबड्डी को बढ़ावा देने का आह्वान करते हुए कहा कि खेलों से जहां आपसी भाईचारा बढ़ता है। वहीं शारीरिक व मानसिक विकास भी होता है। उन्होंने कुश्ती अखाड़ा में मौजूद सभी पहलवानों से खेल की भावना से खेलने का आह्वान करते हुए कहा कि खेल में हार व जीत नहीं होती। बल्कि जीत से आगे बढ़ने का जज्बा पैदा होता है। प्रतियोगिता में सर्वप्रथम बिहार के मधुबनी से आए शंभू यादव एवं बिहार बक्सर से आए अजित पहलवान जिसमें दोनों के बीच जबरदस्त मुकाबला के बावजूद बराबरी पर रहा। पटना की नूतन पहलवान व कानपुर के काजल पहलवान के बीच शानदार मुकाबला रहा। बिहार बक्सर के मन्नू पहलवान ने दिल्ली के ललन पहलवान को धोबिया पाट देकर पराजित किया। मधुबनी बिहार के अशोक पहलवान एवं दिल्ली के शैलेश पहलवान के बीच हुए मुकाबला बराबरी पर समाप्त हुआ। जबकि गया बिहार की सोनम पहलवान ने गोरखपुर यूपी के पहलवान निशा को धाक दाव से पराजित कर अपनी जीत हासिल की। आयोजित मेला के सम्बंध में सामाजिक कार्यकर्ता विनय कुमार ने कहा कि इस गांव में पूर्व से कार्तिक पूर्णिमा के अवसर पर कुश्ती का आयोजन होते आया है। लेकिन बीच में किसी कारण वश बीच में कुश्ती का आयोजन बंद हो गया था। अब पुन: इसकी शुरुआत अगले साल से की गई है जो आगे चलता रहेगा। मेला उद्घाटन के अवसर पर मेला अध्यक्ष विरेन्द्र यादव, उपाध्यक्ष लाल सिंह, कोषाध्यक्ष कौशल कुमार, सचिव रंजन कुमार यादव, भीम सुतिहार, परशुराम मंडल, राजेश सिंह, काजल कामनी, ब्रह्मदेव यादव, बिजली सिंह यादव, अनमोल कुमार, रंजीत कुमार, पप्पू कुमार, बिजेंद्र कुमार, मनराज कुमार, राम बहादुर यादव सहित भारी संख्या में स्थानीय लोग उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस