सिवान। थाना क्षेत्र के गौरा गांव के शिव मंदिर में शनिवार की रात पांच-छह अज्ञात शरारती तत्वों ने मंदिर के पुजारी को चाकू का भय दिखाकर मंदिर में तोड़फोड़ की तथा 12 सौ नकद तथा मंदिर में रखे झाल, बर्तन समेत एक हजार से अधिक की संपत्ति लूट ली। रविवार की सुबह पुजारी ने इसकी सूचना ग्रामीणों को दी। सूचना मिलते ही ग्रामीण उपेंद्र कुमार ¨सह, कन्हैया ¨सह, रामानंद ¨सह, नवीन कुमार ¨सह, अमित ¨सह, राजेश ¨सह, शंभू ¨सह, योगेंद्र ¨सह, राजू ¨सह, राम सागर ¨सह, प्रदीप कुमार ¨सह, राजेश ¨सह, बिट्टू कुमार, कृष्णा ¨सह, हरेंद्र ¨सह, इंदुभूषण ¨सह, रामदेव ¨सह, उमाशंकर ¨सह, चंद्रमा ¨सह, भरत ¨सह, मनीष ¨सह, फूलचंद साह, भैरव यादव, बनारसी गोड़, द्वारिका मांझी, लक्ष्मण गोड़,उपेंद्र यादव, गंगासागर ठाकुर, बिजली ¨सह समेत काफी संख्या में ग्रामीण एकत्रित हो गए तथा पुलिस प्रशासन के खिलाफ प्रदर्शन करने लगे। ग्रामीणों का आरोप है कि पुलिस को सूचना देने के बावजूद कोई कार्रवाई नहीं की गई और अपने स्तर से पता करने की बात कहकर लौटा दिया। इस संबंध में थानाध्यक्ष कैप्टन शहनवाज ने बताया कि ग्रामीणों द्वारा लगाए जा रहे आरोप बेबुनियाद है। आवेदन मिली है। जांच के लिए पदाधिकारी को भेजा गया। जांच कर चोरों की जल्द गिरफ्तारी की जाएगी। पुजारी ने थाने में दिया आवेदन :

गौरा शिव मंदिर के पुजारी बेगूसराय जिला के भगतपुर गांव निवासी गंगाधर झा ने थाने में आवेदन देकर कहा है कि मैं इस मंदिर में चार साल से पुजारी का काम करता हूं। रोज की भांति शनिवार की रात भोजन कर सो गया था। समय करीब एक बजे दो बाइक पर सवार पांच-छह शरारती तत्व गमछा से मुंह बांधे आए और मुझ बुलाकर जान से मारने की नीयत से चाकू का भय दिखाकर

जबरन चाभी लेकर मंदिर में प्रवेश कर कुछ सामान को क्षतिग्रस्त कर दिया तथा 1200 रुपये नकद, पीतल का बर्तन, ढोलक, सात जोड़ी झाल, पांच लीटर का गैस से भरा, सिलेंडर लेकर फरार हो गए।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस