सिवान । स्थानीय थाना क्षेत्र के धोबवलिया गाव में ऑनर किलिंग मामले के 14 दिन बीत जाने के बाद भी पुलिस यह पता नहीं लगा सकी है कि दोनों की हत्या की गई है या दोनों ने खुदकुशी की है। पुलिस को न पोस्टमार्टम रिपोर्ट मिल सकी है न सीडीआर हाथ लग सका है। वैसे घटना के दो दिन बाद ही पुलिस को पोस्टमार्टम रिपोर्ट मिल जाती है। 24 घटे के अंदर सीडीआर मिल जाता है। इस मामले में 14 दिन बीत गए, आखिर दोनों रिपोर्ट पुलिस को क्यों नहीं मिल पा रही है। यह क्षेत्र में चर्चा का विषय बना है।

क्या शिवकुमारी कुंवर को इंसाफ मिल जाएगा। सबसे बड़ी बात कि हत्या का मास्टरमाइंड राजेश कुमार शर्मा अभी भी पुलिस गिरफ्त से बाहर है। गाव के लोगों का घटना के दिन से ही यह कहना है कि राजेश कुमार शर्मा की गिरफ्तारी के बाद यह सच्चाई सामने आएगी कि हत्या कैसे और कहां हुई, कैसे युवक-युवती के शव को पेड़ से लटकाया गया, हत्या में कितने लोग शामिल थे, लेकिन इस मामले में पुलिस सुस्त दिख रही है।

केस के अनुसंधानकर्ता राकेश कुमार रंजन का कहना है कि वे फरार अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रहे हैं, लेकिन सही लोकेशन नहीं मिलने से परेशानी हो रही है। उनका भी यह मानना है कि राजेश कुमार शर्मा की गिरफ्तारी के बाद हत्या की सही जानकारी मिलेगी।

उन्होंने बताया कि वे प्रतिदिन सिवान पोस्टमार्टम रिपोर्ट एवं सीडीआर के लिए जा रहे हैं, लेकिन आज-कल के इंतजार में 14 दिन बीत गए। इधर अपने इकलौते बेटे को खोने के बाद शिवकुमारी कुंवर को यह इंतजार है कि कब पुलिस उसे हत्या की सही जानकारी देगी। उसका अभी भी रो-रोकर बुरा हाल है। उसका कहना है कि मुझे इंसाफ मिलेगा भी या नहीं। ज्ञात हो कि धोबवलिया गाव निवासी ईश्वरलाल शर्मा की पुत्री सविता कुमारी तथा पड़ोसी स्व. बाकेलाल के पुत्र जितेंद्र कुमार साह के बीच कई वर्षों से प्रेम प्रसंग चल रहा था, जो सविता के परिवार वालों को नागवार गुजर रहा था। इसी कारण सविता के परिवार वालों पर आरोप है कि 31 अगस्त को युवक-युवती की हत्या कर गाव से लगभग एक किलोमीटर की दूरी पर सुनसान जगह पर एक पेड़ से लटका दिया। सुबह जब शौच के लिए ग्रामीण गए तो उस हृदयविदारक दृश्य को देख भौंचक रह गए। युवक जितेंद्र की मा शिवकुमारी के आवेदन पर थाने में प्राथमिकी दर्ज कर युवती के पिता, भाई, चाचा, चचेरे भाई को अभियुक्त बनाया गया। पुलिस ने घटना के दिन ही युवती के पिता को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। वहीं तीन अभियुक्त अभी भी फरार हैं।

..

.

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस