सीतामढ़ी। जलजमाव, गंदगी व जर्जर सड़क का दंश झेल रहे शहर के रिगबांध बाइपास रोड पंचमुखी हनुमान मंदिर इलाके के आम लोगों का गुस्सा शनिवार को फूट पड़ा। मंदिर के समीप प्रदर्शन कर धरने पर बैठ गए। सूचना पर पहुंची नगर थाना पुलिस ने समझा-बुझाकर धरना-प्रदर्शन खत्म कराने की कोशिश की, लेकिन आक्रोशित टस से मस नहीं हुए। आक्रोशितों ने राजद नेत्री सीमा गुप्ता के नेतृत्व में बांस-बल्ला लगाकर सड़क जाम कर दिया तथा टायर जलाकर आगजनी की। गोशाला रोड आंबेडकर चौक पर आवागमन बाधित होने से अफरातफरी मच गई। इक्तेफाकन डीएम मनेश कुमार मीणा सहित अन्य अधिकारियों का काफिला उधर से गुजर रहा था। डीएम ने आंदोलितों की बातें सुनी और भरोसा दिलाते हुए आवागन को सुचारू कराने का अनुरोध किया। डीएम के जाते ही मोहल्ले और आक्रोशित हो उठे। जिला प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करते हुए पुन: चौक को जाम कर दिया। नगर थाना पुलिस दोबारा पहुंची तो लाठी चार्ज कर लोगों को खदेड़ने लगी। राजद नेत्री ने कहा कि डीएम के जाने के बाद पहुंची नगर थाना पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार करने का प्रयास किया, मगर मोहल्लेवासियों के विरोध के कारण छोड़ दिया।

आंदोलन के दौरान उसी रास्ते पहुंचा डीएम का काफिला, दोबारा जाम कर बैठे मोहल्लेवासी

राजद नेत्री सीमा गुप्ता ने कहा कि 30 दिन पूर्व जब उनलोगों ने आंदोलन किया था तो डीएम एवं नगर निगम के अधिकारियों ने तीन दिनों के अंदर समस्या के निदान का आश्वासन दिया था, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई। उससे नाराज मोहल्लेवासी पंचमुखी मंदिर के समीप रिगबांध पर प्रदर्शन कर धरने पर बैठे। काफी देर तक कोई पदाधिकारी सुनवाई के लिए नहीं पहुंच सके। जिससे मोहल्लेवासियों का गुस्सा और भड़क गया। सभी ने मिलकर आंबेडकर चौक को जाम किया। दूरभाष पर डीएम से वार्ता की कोशिश की गई लेकिन उन्होंने कॉल रिसिव नहीं किया। कुछ देर बाद डीएम सहित अन्य अधिकारियों का काफिला उसी रास्ते से गुजर रहा था तो उन्होंने वार्ता कर बांस-बल्ला हटवा दिया। बांस-बल्ला हटते ही सभी अधिकारी निकल गए। पंचमुखी हनुमान मंदिर के सामने के मोहल्ले में विगत कई वर्षों से नाले का पानी सड़क पर बहता है। जिससे आवागमन में काफी कठिनाई होती है। वर्षा के मौसम में दो से तीन फीट पानी जमा हो जाता है। कई बार नगर निगम कार्यालय में आवेदन दिया गया। जलनिकासी की कोई व्यवस्था नहीं की गई। प्रदर्शन में नगर राजद अध्यक्ष मुकेश पाल, दीपक पाल, रामबाबू महतो, कमलेश मंडल, प्रेम मंडल, श्याम पाल, किरण देवी, संगीता देवी, सरस्वती देवी, दुर्गा देवी, माया देवी, किशोरी देवी, सुनीता देवी, सुगिया देवी, भोला कुमार, मनीष कुमार, रवित कुमार, राजा कुमार, रवि कुमार, विजय कुमार, पिटू कुमार व संतोष कुमार सहित बड़ी संख्या में मोहल्लेवासी शामिल थे।

Edited By: Jagran