सीतामढ़ी। नगर के वार्ड 16 में युवाओं की टोली आपदा की इस घड़ी में दिहाड़ी मजदूरों, रिक्शा व ठेला चालकों के परिवार की मदद कर रही है। टोली में वार्ड के छह युवा शामिल हैं। युवाओं ने पहले तो घूम-घूम कर लोगों से चंदा इकठ्ठा किया। जमा राशि कम पड़ने पर सभी युवाओं ने अपने पास से और राशि जोड़कर खाद्य सामग्री व दैनिक उपयोग की सामग्री की खरीद की। घर-घर बांटने के लिए अलग-अलग पैकेट बनाए। एक पैकेट में दस किलो आटा, ढाई किलो आलू, एक किलो प्याज, एक किलो सरसो तेल व एक किलो नमक रखा गया। पिछले तीन दिनों के अंदर युवाओं की टोली ने वार्ड 16 सहित 15 व 14 वार्ड में रहने वाले करीब ढाई सौ दिहाड़ी मजदूर, रिक्शा व ठेला चालक के परिवार को खाद्य सामग्री पहुंचाया। वार्ड 16 में रह रहे रिक्शा चालक विनोद पासवान बतातें है कि लॉकडाउन के कारण बेकार हैं। काम-धंधा बंद है। पहले से कमाई गई जमा पूंजी खत्म हो गए। आपदा की इस घड़ी में युवाओं की टोली मददगार बन सामने आई है। ठेला चाहक अभय मंडल बतातें हैं कि नौ दिनों से काम ठप है। ठेला चलाकार प्रतिदिन पांच सौ रुपये कमाता था लेकिन लॉक डाउन के कारण कमाई बंद हो गई। इससे खाने के लाले पड़ गए थे। परिवार चलाना मुश्किल हो गया। ऐसे में युवाओं की टोली ने खाद्य सामग्री का पैकेट देकर नेक काम किया है। टोली में शामिल विकास कुमार, जितेंद्र कुमार कक्कू, विकास अग्रवाल, रमेश कुमार, सचिन कुमार व विजय कुमार लोगों से लॉकडाउन का नियम का पालन करते हुए संपन्न लोगों से सहयोग की अपील की है। कहा कि उनकी टोली बीमार लोगों को चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने के लिए पहल करेगी। वही, प्रधानमंत्री कोष में सहयोग के लिए धन संग्रह करेगी।

Edited By: Jagran