जागरण संवाददाता, शेखपुरा :आखिरकार चचरी के सहारे कौड़ीहारी नदी पर आवागमन शुरू हो गया। यह आवागमन पूरे आठ दिनों के बाद शुरू हो पाया है। सितंबर के अंत में हुई चार दिनों के बरसात की बजह से हुसैनाबाद के पास कौड़ीहारी नदी में बनाया गया डायवर्सन बह गया था। इससे चेवाड़ा तथा अरियरी प्रखंड की लगभग 50 हजार आबादी का जिला मुख्यालय शेखपुरा का सीधा संपर्क टूटा हुआ था। इसको लेकर तीन दिन पहले शांति समिति की बैठक में डीएम ने भी पथ निर्माण विभाग के कार्यपालक अभियंता को सख्त निर्देश दिया था। इस बाबत पथ निर्माण विभाग के कार्यपालक अभियंता ने बताया कि नदी में पानी अधिक आने की वजह से अभी तत्काल आवागमन के लिए अस्थाई व्यवस्था की गई है। यह अस्थाई व्यवस्था पैदल राहगीरों के आने-जाने के लिए की गई है। इस काम में स्थानीय लोगों ने भी सहयोग प्रदान किया है। बताया कि नदी में पानी कम होने के साथ ही पुल की ढलाई का काम कर लिया जायेगा। इधर सीपीआई के जिला मंत्री प्रभात पांडे ने बताया कि नदी पर बनाये गये चचरी पुल में पथ निर्माण विभाग का कोई सहयोग नहीं है। पुल निर्माण स्थल पर रखे गाटर, पाइप और बांस की मदद से स्थानीय लोगों ने ही समूचा प्रयास करके यह अस्थाई व्यवस्था किया है। इसके लिए कुछ लोगों ने आपस में चंदा भी किया है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप