शेखपुरा। शेखपुरा में वर्षाें पूर्व पुलिस कप्तान की कुर्सी संभालने वाले आइपीएस अमित लोढ़ा के द्वारा जारी किए गए पुस्तक बिहार डायरीज पुस्तक को राजद कार्यकर्ताओं ने जलाकर अपना कड़ा आक्रोश जताया है। राजद के लोगों ने बताया कि बिहार डायरीज नामक जारी पुस्तक में आईपीएस अमित लोढ़ा ने शेखपुरा में अपने कार्यकाल के दौरान दबोचे गए दुर्दान्त अपराधी में राजद के प्रदेश नेता विजय सम्राट के नाम का जिक्र कर दिया है। जिसे राजद कार्यकर्ताओं के साथ-साथ जिले भर के कार्यकर्ता नाराज है। अपने नेता विजय सम्राट का नाम अकारण बिहार डायरीज में छापे जाने से आक्रोशित राजद कार्यकर्ताओं ने शनिवार को समाहरणालय के समीप जमा होकर उक्त पुस्तक को जलाते हुए अमित लोढ़ा के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। राजद कार्यकर्ताओं ने कहा कि स्वच्छ छवि वाले नेता विजय सम्राट का नाम बिहार डायरीज से यदि नही हटाया गया तो आईपीएस अमति लोढ़ा के उपर करोड़ो रुपये का मानहानी का मुकदमा दर्ज कराया जाएगा। राजद नेतओं ने साफ तौर पर कहा कि हमारे नेता विजय सम्राट का छवि बदनाम करने तथा उनके राजनीतिक कैरियर खराब करने की नीयत से अमित लोढ़ा गलत तरीके से नाम अंकित कर दिया है। जबकि अमित लोढ़ अपने कार्यकाल के दौरान किसी विजय सम्राट नामक व्यक्ति को कभी गिरफ्तार ही नही किया है तो इनका नाम किस तरीके से अंकित किया गया है। पुस्तक जलाने वालों में राजद जिलाध्यक्ष विजय यादव, पूर्व जिलाध्यक्ष राजनीति प्रसाद ¨सह, युवा जिलाध्यक्ष शंभू कुमार यादव सहित भारी संख्या में लोग शामिल थे।

Posted By: Jagran