सीतामढ़ी। तरियानी प्रखंड क्षेत्र के दुम्मा गांव की मुख्य सड़क पर कीचड़ एवं जल जमाव की समस्या खत्म होने का नाम नहीं ले रही। हद तो यह कि उप मुखिया प्रतिनिधि राजू साह के घर के पास से ही कीचड़ भरी सड़क की शुरुआत होती है जो जयप्रकाश साह के घर तक नारकीय स्थिति उत्पन्न कर रही है। ऐसे तो कमोबेश सालों भर यही हाल रहता है लेकिन बारिश होने पर स्थिति और खराब होती है। अक्सर दुर्घटनाएं भी होती रहती हैं। मालूम हो कि उक्त सड़क शिवहर-मुजफ्फरपुर पथ के उप मार्ग के रूप में उपयोग होता है जो तरियानी में मुख्य मार्ग से जा मिलती है। नतीजतन वाहनों का दबाव काफी रहता है। साथ आसपास के दर्जनों गांवों का मुख्य पथ यही है। जल जमाव एवं कीचड़ की वजह नाली का नहीं होना है। ग्रामीण सुधीर गुप्ता, पीके साह, मुकेश कुमार, नंदकिशोर गुप्ता, पंकज कुमार, कन्हैया कुमार, राम औतार साह सहित अन्य का कहना है कि सड़क नीची होने से पानी जमा हो जाता है अगर नाली निकासी की व्यवस्था कर दी जाए तो समस्या का स्थायी समाधान हो जाए। लेकिन इस ओर न जिला प्रशासन की नजर है और न ही स्थानीय जनप्रतिनिधि का। आक्रोशित ग्रामीणों का कहना है कि अगर इस समस्या का निदान नहीं किया गया तो हम लोग सड़क जाम कर आंदोलन करने को बाध्य होंगे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस