शिवहर, जेएनएन। सरकार संचालित राष्ट्रीय पोषण मिशन अभियान का विधिवत शुभारंभ गुरुवार को समाहरणालय स्थित संवाद कक्ष में किया गया। आइसीडीएस जिला इकाई के तत्वावधान में उक्त विषयक एक दिवसीय उन्मुखीकरण कार्यशाला का आयोजन डीएम अरशद अजीज की अध्यक्षता में की गई। इस दौरान अभियान के प्रमुख उद्देश्यों पर विस्तार से प्रकाश डाला गया। डीएम ने कहा कि आज बदलते भारत में कुपोषण एक बहुत बड़ी बाधा है। वहीं विश्व स्तर पर यह देश की साख को भी प्रभावित करता है। इसके उन्मूलन के लिए जन जागरूकता अत्यंत आवश्यक है। वहीं इसकी पूर्णत: समाप्ति के लिए सामूहिक प्रयास करने होंगे। बताया कि पूरे सितंबर माह पोषण मिशन अभियान चलेगा इसमें हर वर्ग, जाति संप्रदाय, वर्ण एवं वय के लोगों को अपनी भूमिका निभानी होगी। कहा मैं खुद भी इसकी मॉनीटरिग करुंगा। दी गई जबाबदेही को पूरी संजीदगी से निभाने की जरूरत है। एसपी संतोष कुमार ने सरकार के इस मिशन में सभी को आगे आकर मदद करने का आह्वान किया। कहा कि आज हम विकसित देश बनने की ओर अग्रसर हैं ऐसे में कुपोषण रोड़ा के समान है। डीडीसी मो. वारिस खान ने कुपोषण पर भारत सहित अन्य देशों का तुलनात्मक ब्योरा प्रस्तुत करते हुए कहा आज हर क्षेत्र में जरुरी संसाधनों में बढ़ोतरी हुई है ऐसे में कुपोषण का धब्बा हमारे पिछड़ेपन की निशानी है। पोषण मिशन की सार्थकता पर चर्चा की वहीं आवाम को जागरूक रहने को प्रेरित किया। सीएस डॉ. धनेश कुमार सिंह ने कुपोषण के भयावह परिणामों को रेखांकित किया वहीं इसे दूर करने के उपायों पर चर्चा की। कहा कि आज तकनीकी तौर पर देश तरक्की की ओर है इसलिए इस व्याधि से मुक्त होना समय की मांग है। इस दौरान पोषण के पांच विशेष सूत्रों पहले सुनहरे 1 हजार दिन, पौष्टिक आहार, एनीमिया, डायरिया एवं स्वच्छता एवं सफाई की व्याख्या की गई। कार्यक्रम का संचालन कर रही आइसीडीएस डीपीओ कुमारी सुचेता ने मिशन से संबद्ध अधिकारी एवं कर्मियों को मिशन के लक्ष्य के प्रति गंभीर रहने का आह्वान किया। कार्यक्रम के दौरान उपस्थित तमाम लोगों ने सामूहिक शपथ ली कि मैं भारत के तमाम बच्चों, किशोरों एवं महिलाओं को कुपोषण मुक्त करने, पोषण माह के दौरान हर घर तक पोषण का अर्थ पौष्टिक आहार, साफ पानी एवं सही प्रथाएं का संदेश पहुंचाने का हरसंभव प्रयास करूंगा। इस अभियान को हर घर, गांव शहर, विद्यालय तक ले जाकर देशव्यापी आंदोलन चलाऊंगा। इस बीच भाई, बहन एवं बच्चे स्वस्थ होंगे, पूरी क्षमता प्राप्त करेंगे सहित सही पोषण देश रौशन का नारा बुलंद किया गया। मौके पर एडीएम शंभूशरण, डीआरडीए निदेशक रवींद्र कुमार, डीसीएलआर शार्दूल हसन खान, नपं अध्यक्ष अंशुमान नंदन सिंह, स्वास्थ्य, शिक्षा, कृषि एवं पीएचईडी विभाग के अधिकारी, सभी सीडीपीओ, प्रधान लिपिक धनेश बैठा सहित सभी प्रखंडों से आए समाजसेवी मौजूद थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप