शिवहर। डीएम अरशद अजीज की अध्यक्षता में सोमवार को जिला समन्वय समिति की बैठक कलेक्ट्रेट स्थित संवाद कक्ष में हुई। इस दौरान बढ़ते जल संकट के मद्देनजर सभी सीओ को अपने हल्का में जल संचय योग्य नाला, तालाब एवं गड्ढों का स्थल निरीक्षण कर तीन दिनों के भीतर उसका खाता, खेसरा एवं रकवा का प्रतिवेदन उपलब्ध कराने का निर्देश दिया गया। वहीं शिवहर, पिपराही एवं तरियानी सीओ को बागमती नदी पुरानी धार एवं रघुवंश नहर की सरकारी भूमि को अतिक्रमण मुक्त कराना सुनिश्चित करें। सभी मनरेगा पीओ को ग्रामीण एवं ग्रामीण कार्य प्रमंडल की सड़क किनारे खाली स्थानों पर 15 अगस्त से पूर्व पौधरोपण कराने का निर्देश दिया गया।

आंगनवाड़ी केंद्रों को मॉडल आंगनवाड़ी केंद्र बनाने हेतु आवश्यक कार्रवाई यथाशीघ्र पूरा करने का निर्देश सीडीपीओ को दिया। वहीं आंगनवाड़ी केंद्र भवन में मरम्मत की आवश्यकता हो तो उसे पूरा करें। वहीं बच्चों को गुणवत्तापूर्ण भोजन के साथ ग्रोथचार्ट का सही ढंग संधारण सुनिश्चित करें।

कृषि विभाग की समीक्षा की समीक्षा के दौरान रैयती एवं गैर रैयती खेती, सुखाड़ की स्थिति, आच्छादन की स्थिति, फसल क्षति अनुदान सहित अन्य संर्वेक्षण रिपोर्ट शनिवार तक अधोहस्तारी को उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। वहीं डीसीओ को पंचायतवार फसल क्षति सहायता से संबंधित प्रतिवेदन उपलब्ध कराने का निर्देश दिया गया।

बाढ़ पूर्व तैयारी की समीक्षा के दौरान सीओ को निर्देशित किया गया कि गोताखोरों एवं वालंटियरों की सूची की सूची मोबाइल नंबर सहित जिला नियंत्रण कक्ष को उपलब्ध कराएं। वहीं अपने क्षेत्राधिकार में तटबंधों पर सतत निगरानी रखने का निर्देश दिया गया। कार्यपालक अभियंता को(बागमती प्रमंडल) को तटबंध के संवेदनशील स्थलों बेलवा बसहिया शेख सहित अन्य जगहों पर निगरानी रखने एवं कटाव निरोधी सामग्रियों का पर्याप्त भंडारण करने का निर्देश मिला। इधर जिला शिक्षा पदाधिकारी को टास्क मिला कि निर्धारित समय पर विद्यालयों में शिक्षकों की मौजूदगी सुनिश्चित करें। विद्यालय अवधि में बीआरसी, सीआरसी या बिना अवकाश के कोई शिक्षक अनुपस्थित रहेंगे तो कार्रवाई तय है। शनिवार को खेलकूद प्रतियोगिता एवं प्रत्येक माह उच्च विद्यालयों के बच्चों की जांच परीक्षा अनिवार्य बताया गया। जिला स्थापना उप समाहर्ता को निदेशित किया कि 5 तारीख को सभी विभाग के प्रधान सलाहकारों के साथ बैठक एवं 31 तारीख को विभागीय कर्मियों एवं उनके अधिकारियों संग बैठक का आयोजन करें।

शिवहर- मीनापुर पथ चौड़ीकरण कार्य में तेजी लाने एवं जहां कहीं गड्ढों में पानी जमा उसे निकालने का निर्देश संबंधित कार्यपालक अभियंता को दिया गया वहीं नपं कार्यपालक पदाधिकारी को सुनिश्चित करें कार्यपालक अधिकारी नगर पंचायत को निर्देश दिया गया है कि शहर में हुए जलजमाव की निकासी की व्यवस्था यथाशीघ्र करें। इसके अतिरिक्त पंचायती राज, प्रधानमंत्री आवास योजना, पेंशन योजना सहित अन्य योजनाओं की समीक्षा कर जरूरी निर्देश दिए गए। मौके पर सभी विभागीय अधिकारी, बीडीओ, सीओ, मनरेगा पीओ सहित अन्य मौजूद थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप