छपरा। पूर्व मध्य रेलवे के सोनपुर मंडल की ओर से नयागांव रेलवे स्टेशन के पूर्वी छोर पर गुरुवार की रात रेल दुर्घटना छदम अभ्यास(मॉक ड्रिल)का आयोजन किया गया। जिसमें दुर्घटना के समय किसी भी स्थिति में बचाव के लिये एनडीआरएफ की टीम ने यात्रियों को बचाने के लिए हर संभव प्रयासरत दिखी। साथ में एनडीआरएफ के वरीय अधिकारियों ने भी घटनास्थल पर डटे रहे मॉक ड्रिल में दिखाया गया कि ट्रेन में खचाखच यात्रियों से भरा एक रेल डिब्बा पटरी से उतरकर दुर्घटनाग्रस्त हो जाता है और बोगी में आग लग जाती है। बोगी में सभी यात्री बचाओ बचाओ चिल्लाने लगते हैं तभी एनडीआरएफ की टीम घटनास्थल पर पहुंच कर आग को बुझाती है एवं डिब्बे के खिड़की और दरवाजे को काटकर घायलों और मृतकों को बाहर निकालती है। घटना स्थल पर रेलवे की मेडिकल टीम, डॉक्टर, एंबुलेंस एवं बचाव दल के सदस्य मौजूद थे। रेल पुलिस की ओर से एक सहायता काउंटर लगाया गया था, जहां पर दुर्घटना में घायल एवं मृत यात्रियों के बारे में जानकारी दी जा रही थी। वहीं सोनपुर मंडल रेल प्रबंधक अतुल्य सिन्हा ने रेल कर्मियों को दुर्घटना से संबंधित कई जानकारी दी। इस मौके पर आरपीएफ के वरीय अधिकारियों के अलावा मंडल वाणिज्य अधिकारी दिलीप कुमार, मंडल मेकेनिकल अभियंता नितिन कुमार, स्टेशन प्रबंधक विद्यानन्द भगत, यातायात निरीक्षक अनिल कुमार, नयागांव के थानाध्यक्ष अरुण कुमार, संजीव कुमार कार्यरत,कुमार विजय, चतुर्भुज प्रसाद, अमित कुमार, संतोष कुमार एवं नयागांव के सभी रेल कर्मचारी घटना स्थल यानी (मॉक ड्रिल )के स्थान पर मौजूद थे।

Posted By: Jagran