समस्तीपुर। प्रधानमंत्री के जन्मदिन पर 17 सितंबर को होने वाले कोविड-19 वैक्सीनेशन महाअभियान की समीक्षात्मक बैठक बुधवार को समाहरणालय सभाकक्ष में हुई। वीडियो कॉफ्रेंसिग के माध्यम से सभी प्रखंड के बीडीओ तथा प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी सम्मिलित हुए। डीएम ने इस महाअभियान के तहत जिले में कुल दो लाख लोगों को टीकाकरण का लक्ष्य दिया। इसमें आशा, आंगनबाड़ी, जीविका, एएनएम की सतत भागीदारी शामिल होगी। महाभियान के पूर्व सभी संबंधित आशा, आंगनबाड़ी, जीविका कम से कम 100 बेनिफिसरी का लिस्ट तैयार रखेंगी, ताकि ससमय वैक्सीनेशन का कार्य प्रारंभ किया जा सके। वैक्सीनेशन का कार्य सुबह सात से आठ बजे के बीच शुरू करने का निर्देश दिया गया। वैक्सीनेशन कार्य में लगे कर्मियों के वैक्सीनेशन केंद्र पर आने-जाने हेतु आवश्यकता के अनुसार गाड़ी की व्यवस्था करने का निर्देश सभी संबंधित प्रखंड विकास पदाधिकारी, अंचलाधिकारी, प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी को दिया गया है। प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी को वैक्सीनेशन कार्य हेतु संकीर्ण जगहों पर आने-जाने के लिए 4-4 मोटरसाइकिल रखने का भी निर्देश दिया गया। सभी सेशन साइट जो विद्यालय में है चल रहे है उन्हें 17 सितंबर को प्रात: छह बजे से खोलने का निर्देश जिला शिक्षा पदाधिकारी को दिया गया। कोविड-19 वैक्सीनेशन महा अभियान को लेकर जिले के सभी वरीय पदाधिकारी एवं पुलिस पदाधिकारी को इसकी सतत जांच सह निगरानी करने का निदेश दिया गया। मौके पर लेखा प्रशासन-सह-स्वनियोजन निदेशक विजय कुमार पांडेय, सिविल सर्जन डॉ. सत्येंद्र कुमार गुप्ता, जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ. सतीश कुमार सिन्हा, जिला शिक्षा पदाधिकारी मदन राय, डीपीएम एसके दास सहित अन्य उपस्थित रहे। प्राइवेट स्तर पर एएनएम व कंप्यूटर आपरेटर रखने का निर्देश :

वैक्सीनेशन कार्य से जुड़े सभी एएनएम, कंप्यूटर ऑपरेटर को एक दिन पूर्व वैक्सीनेशन सेंटर पर ज्वाइन करने का निर्देश दिया गया। आवश्यकता के अनुसार यदि एएनएम या कंप्यूटर आपरेटर की कमी होती है तो प्राइवेट तौर पर उन्हें रखा जा सकता है, जिसका भुगतान संबंधित पदाधिकारी द्वारा किया जाएगा। आगामी 17 सितंबर को होने वाले कोविड-19 वैक्सीनेशन महा अभियान का वृहत प्रचार प्रसार करने का निर्देश संबंधित पदाधिकारी, आशा, आंगनबाड़ी एवं जीविका को दिया गया। वैक्सीनेशन कार्य ससमय शुरू करने को बनेगा कंट्रोल रूम

प्रखंड स्तर पर एक कंट्रोल रूम का निर्माण किया जाएगा, जो यह सुनिश्चित करेंगे कि वैक्सीनेशन का कार्य ससमय हो रहा है अथवा नहीं या वैक्सीनेशन कार्य में कोई कठिनाई तो नहीं उत्पन्न हो रही है। वैक्सीनेशन कार्य में यदि कोई कठिनाई होती है तो पुलिस बल की गश्ती भी की जाएगी इस हेतु सभी संबंधित थाना प्रभारी को निर्देश दिया गया। वैक्सीनेशन कार्य में कार्यरत वैक्सीनेटर, ड्राइवर, एएनएम इत्यादि को इस बार विशेष भत्ता भी दी जाएगी। सभी वैक्सीनेशन केंद्र पर बिजली की समुचित व्यवस्था करने का निर्देश संबंधित पदाधिकारियों को दिया गया।

Edited By: Jagran