समस्तीपुर। गुरुवार को दैनिक जागरण में नगर पंचायत की चरमराई सफाई व्यवस्था एवं स्वच्छता अभियान से संबंधित छपी खबर पर कई शहर वासियों ने अपनी अपनी राय दी है। सुबह से शाम तक मोबाइल पर करीब दर्जन भर लोगों ने प्रदूषण मुक्त, स्वच्छ शहर के लिए अपने विचार दिए। जिसमें मुख्य रूप से ग्रीन रोसड़ा-क्लीन रोसड़ा को साकार करने, सफाई व्यवस्था को चुस्त-दुरुस्त करने, डंपिग के साथ कूड़ा निस्तारण की अविलंब व्यवस्था करने, सड़क पर कचड़ा फेंकने वालों के विरुद्ध कार्रवाई करना आदि शामिल है।

वार्ड नंबर 1 के गौरव कुमार शर्मा ने जागरण में छपी खबर की सराहना करते हुए कहा कि गंदगी के कारण ठंड के मौसम में भी मच्छरों का प्रकोप जारी है। यदि कचरा का डंपिग और निस्तारण की व्यवस्था हो जाए तो शहर को गंदगी से मुक्ति मिलना संभव है। वार्ड नंबर 4 के सुशील कुमार तथा रंजीत कुमार झा ने प्रदूषण से बचाव के लिए क्लीन रोसड़ा-ग्रीन रोसड़ा को साकार करना आवश्यक बताया। समाचार पत्र द्वारा उठाए गए मुद्दों पर भी काम करने की मांग नपं प्रशासन से की है। वार्ड नंबर 7 के मनोज कुमार तथा रेखा देवी ने सफाई व्यवस्था को दुरुस्त करने की मांग की है। उन्होंने प्रतिदिन प्रत्येक सड़कों पर कूड़ा कचरा उठाव की व्यवस्था सुनिश्चित करने की सलाह दी है। डगबर टोली के संजय कुमार ने कचरा निस्तारण योजना को अविलंब लागू करने पर जोर दिया। कहा कि जब तक रीसाइक्लिग नहीं होगा तब तक कचरों से स्थाई रूप से मुक्ति नहीं मिल सकता है। वार्ड नंबर 6 के नवीन कुमार तथा निर्मला देवी ने वायू प्रदूषण से मुक्ति के लिए शहर के प्रमुख सड़कों एवं गलियों में भी छोटे बड़े पेड़ लगाने की आवश्यकता बताया। वार्ड नंबर 13 के ब्रजेश कुमार ने सरकार द्वारा चलाए गए स्वच्छता अभियान पर प्रश्न खड़ा करते हुए कहा कि आज भी शहर में कई परिवार के लोग खुले में शौच जाने को मजबूर हैं। बावजूद रोसड़ा नगर पंचायत को महीनों पूर्व खुले में शौच से मुक्त की घोषणा कर दी गई। इसके अलावा वीणा देवी, राम सकल पासवान, साकेत कुमार, सरोजिनी कुमारी आदि ने भी प्रदूषण मुक्त स्वच्छ शहर के लिए नपं प्रशासन द्वारा किए जा रहे कार्यों पर असंतोष व्यक्त करते हुए दैनिक जागरण के माध्यम से आम लोगों को भी इसके लिए आगे आने का आह्वान किया है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस