शाहपुर पटोरी (समस्‍तीपुर न्‍यूज), जासं। बिहार के समस्‍तीपुर में एक अजीबो-गरीब मामला सामने आया है। धनबाद की एक युवती प्‍यार में दीवानगी की सारी हदें पार कर दी। धनबाद जिले के तिलैया स्थित विशिष्ट दत्तक ग्रहण केंद्र (बाल सुधार गृह) की वार्डन पर जानलेवा हमला कर फरार युवती को पटोरी से बरामद कर लिया गया है। कोडरमा पुलिस उसे 24 घंटे से तलाश रही थी। पटोरी के आरपीएफ इंचार्ज राणा प्रताप सिंह एवं पटोरी थानाध्यक्ष विक्रम आचार्य ने बताया कि वह युवती पटोरी के प्लेटफार्म नंबर एक से बरामद की गई। अपने परिवार के साथ फिलहाल धनबाद के चिरकुंडा स्थित कुमार धुब्बी में रह रही थी। उसका प्रेम प्रसंग वहीं के अजय यादव के साथ चल रहा था। जब अभिभावकों ने फरार होने के बाद इसकी सूचना पुलिस को दी तो उन दोनों को कोडरमा स्टेशन से बरामद कर लिया गया और इसे तिलैया स्थित उक्त केंद्र पर रखा गया था। पिछले शुक्रवार की सुबह वहां के वार्डन (केयरटेकर) अंजनी देवी पर जानलेवा हमला कर पत्थर और ईंट से जख्मी कर दिया और अर्धचेतन की अवस्था में उसे छोड़कर वहां से फरार हो गई।

लोकेशन के आधार पर हुई कार्रवाई

बाद में कोडरमा पुलिस को सूचित किया गया और उसके मोबाइल लोकेशन पर पता लगाया कि वह शनिवार की शाम शाहपुर पटोरी रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर एक पर बैठी हुई है। इसकी सूचना पटोरी आरपीएफ पोस्ट में तैनात आरक्षी हिमांशु कुमार को विद्यापति में ड्यूटी करते वक्त दी गई तथा उसका फोटो भी मोबाइल पर शेयर किया गया। हिमांशु ने भी इसकी सूचना पटोरी के आरपीएफ इंचार्ज राणा प्रताप सिंह एवं फूलेंद्र कुमार सिंह को दी। आरपीएफ इंचार्ज ने इसकी सूचना पुलिस थाना को देकर महिला दारोगा प्रिया कुमारी तथा अन्य महिला बल को बुलवाया। बाद में प्लेटफार्म नंबर- 2 से उस युवती को बरामद कर लिया गया और उसे चार बजे सुबह कोडरमा पुलिस को सौंप दिया गया।

Edited By: Dharmendra Kumar Singh

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट