संवाद सूत्र, सहरसा : पूर्व मध्य रेल सहरसा रेलखंड में चलनेवाली ट्रेनों की रफ्तार पर कोहरे ने लगाम लगा दी है। ठंड के कारण शीतलहर का प्रकोप शुरू हो गया है। शाम होते ही कुहासा छाने लगता है इसीलिए रात और अहले सुबह जाने वाली ट्रेनों के परिचालन पर रेल प्रशासन ने इसकी स्पीड कम कर दी है।

पूर्व मध्य रेल ने सहरसा-मानसी रेल खंड के बीच रेलपटरी की निगरानी बढ़ा दी है। रात में घने कोहरे के बीच पेट्रोलमैन रेल पटरी की निगरानी कर रहे है। स्थानीय रेल प्रशासन ने भी अपनी चौकसी बढ़ा दी है। नवंबर माह के चौथे सप्ताह से ही कुहासा गिरने लगा है। जिसके कारण ट्रेनों की स्पीड भी घटाई है।

सहरसा रेलखंड में दो दर्जन से अधिक जोड़ी ट्रेनों का परिचालन किया जा रहा है। शाम होते ही कुहासा का असर दिखना शुरू हो जाता है। सहरसा-मानसी सहित अन्य रेलखंडों में ट्रेनों की स्पीड 100 किमी. की रफ्तार से ट्रेन चलाई जा रही है। कोहरे के कारण रेल पटरी पर धुंध छाने की वजह से इसकी स्पीड 60 किमी तय कर दी है जिससे ट्रेन की स्पीड पर नियंत्रण रखी जा सकें।

------------------------

फाक डिवाइस के कारण मिल रही है राहत

पूर्व मध्य रेल ने दुर्घटना को रोकने के लिए ही हर ट्रेन में इंजन पर ही एक फाक डिवाइस लोको पायलट को उपलब्ध कराया जाता है। जिससे यह पता चलता है कि सिग्नल कितनी दूरी पर है। चलती ट्रेन में ही लोको पायलट को यह जानकारी डिवाइस के माध्यम से मिल जाती है कि अगला सिग्नल कितनी दूरी पर स्थित है। पहले लोको पायलट को यह सुविधा उपलब्ध नहीं थी। लेकिन इस सुविधा से कुहासा के कारण होनेवाले दुर्धटनाओं में काफी कमी आयी है।

----------------------------

दिसंबर से हर मंगलवार को रद रहेगी वैशाली एक्सप्रेस

पूर्व मध्य रेल सहरसा से नई दिल्ली के बीच प्रतिदिन चल रही वैशाली एक्सप्रेस दिसंबर माह से फरवरी तक हर मंगलवार को रद रहेगी। रेलवे ने कोहरे के कारण ही यह निर्णय लिया है। मंगलवार को सहरसा से जानेवाली और बुधवार को नई दिल्ली से आनेवाली वैशाली एक्सप्रेस का परिचालन रद रहेगा।

---------------------------

- कोहरे के कारण पूर्व मध्य रेल के सभी मंडलों में अलर्ट जारी किया है। ट्रेनों की स्पीड को भी कम किया गया है। रेल पटरी की निगरानी बढा दी गयी है। पूर्व मध्य रेल के कई ट्रेनों का परिचालन भी रद किया गया है।

राजेश कुमार, मुख्य जनसंपर्क अधिकारी, पूर्व मध्य रेल

Edited By: Jagran