सहरसा। पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमत के विरोध में जन अधिकार पार्टी के कार्यकर्ताओं ने कचहरी चौक पर शुक्रवार को पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान का पुतला फूंका। इस दौरान केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी की गई।

जाप जिलाध्यक्ष रंजन यादव ने कहा है कि पेट्रोलियम पदार्थों की कीमत में बढ़ोतरी केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार की भारी विफलता है। इस सरकार में वही लोग हैं जो सत्ता में आने से पूर्व महंगाई के मुद्दे पर हंगामा करते थे। लेकिन अब सरकार में आने के बाद जनता को महंगाई के बोझ तले दबा दिये हैं। बीते सात सालों में जनता महंगाई से त्रस्त है। जाप नेता ने आगे कहा कि आज बिहार के भी कई जिलों में पेट्रोल की कीमत 100 रुपये के पार चली गयी है, जिससे ट्रांसपोर्ट महंगा हो गया है। इसका प्रभाव तकरीबन सभी चीजों के मूल्यों पर पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में आपदा को अवसर बनाकर केंद्र की मोदी सरकार और बिहार सरकार लगातार बढ़ते पेट्रोल-डीजल के दामों पर नियंत्रण करने की बजाय भारी भरकम टैक्स वसूलकर लोगों की जेब पर डाका डाल रही है। कहा कि मोदी सरकार ने पिछले सात साल में पेट्रोल डीजल पर टैक्स में बार-बार बढ़ोतरी करके कीमतों को रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचा दिया है। सरकार की गलत नीतियों के कारण बिहार समेत देश के कई हिस्सों में पेट्रोल की कीमतें आज सौ रुपये प्रति लीटर का आंकड़ा पार कर चुकी है। साल 2012 में जब इंटरनेशनल मार्केट में कच्चे तेल की कीमत अधिक थी, तब भी देश में इतनी महंगाई नहीं हुई थी और पेट्रोल 70 रुपये लीटर मिल रहे थे। आज जब इंटरनेशनल मार्केट में कच्चे तेल की कीमत आधी है फिर भी सरकार जनता से ज्यादा पैसे वसूली कर उन्हें कंगाल बनाने में लगी है। मौके पर प्रदेश उपाध्यक्ष उमेश यादव , कमलेश्वरी यादव, प्रदेश महासचिव शाशिभूषनझा यादव,बुद्धिजीबी प्रकोष्ट के जिला अध्यक्ष कपिलदेव यादव , युवा शक्ति के नूनू यादव ,राना सिंह, मनोज पासवान ,राजू,संतोष मेहता, संजय सुमन, ताबिस मैहर ,जाप युवा नगर अध्यक्ष राहुल भगत ,मनीष यादव, अंकित आरभ, प्रिस अजीत, प्रखंड अध्यक्ष दीपक मिश्रा, भूषण यादव , रौशन यदुवंशी, विक्रम यादव, सुमित, सुजीत,महेश यादव, पप्पू यादव, राजन कुमार, जितेंद्र भगत, रोशन सम्राट, गणेश यादव, पप्पू यादव, अरविद यादव, पप्पू यादव, महेश यादव, समीन यादव, अनवर सिद्दीकी समेत अन्य शामिल थे।

Edited By: Jagran