सहरसा। बारिश नहीं होने के कारण धान की फसल प्रभावित हो रही है। कम बारिश होने के कारण यहां के किसान किसी तरह पंपसेट से धान की रोपनी तो की गई लेकिन बारिश नहीं होने के कारण समय पर पटवन नहीं हो पा रहा है।

समदा के किसान देवेन्द्र मेहता, दुहबी के किसान संजय यादव, रहुआ के किसान अरूण साह समेत दर्जनों किसानों ने बताया कि बीते कई वर्षो के बाद इस वर्ष खरीफ के मौसम में बहुत कम बारिश हुई है। कम बारिश होने के कारण खासकर उपरी भाग के जमीन में लगी धान की फसल पानी के अभाव में सूखने लगा है। यहां के किसानों की आर्थिक स्थिति इतनी दयनीय है कि वह पटवन भी करने के स्थिति में नहीं है। सरकार द्वारा मिलने वाली डीजल अनुदान की प्रक्रिया जटिल है जिस कारण किसान उस प्रक्रिया में जाने से परहेज करते हैं। यहां के किसान इंद्र देवता की तरफ टकटकी लगाए हुए हैं। वहीं पटवन नहीं होने से धान का पौधे पीला पड़ते जा रहे हैं।

Posted By: Jagran