लॉकडाउन के दौरान जरूरतमंद लोगों कोरोना के संक्रमण से बचाने और उन्हें खाद्य सामग्री की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए अनुमंडल के मुडियार ग्राम को रेलवे कर्मियों ने गोद लिया था। जहां रेल कर्मी विरेंद्र पासवान के नेतृत्व में सारी गतिविधियों का संचालन किया गया था। जिसे लेकर पूर्व मध्य रेल हाजीपुर जोन तथा पंडित दीनदयाल उपाध्याय रेल मंडल द्वारा पासवान को कोरोना योद्धा घोषित किया है।

पूर्व मध्य रेल हाजीपुर जोन के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी राजेश कुमार ने बताया कि डेहरी ऑन सोन स्टेशन पर नियुक्त रेलकर्मी विरेंद्र पासवान ने तमाम चुनौतियां एवं खतरों के बावजूद जिस बहादुरी के साथ कोविड - 19 के घातक संक्रमण से लोगों को बचाने तथा जरूरतमंद लोगों को खाद्य सामग्री की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए गोद लिए गए गांव मुडियार में कार्य किया, वह औरों के लिए प्रेरणा दायक रहा। उनके इस उत्कृष्ट योगदान के लिए पूर्व मध्य रेल उन्हें कोरोना योद्धा के रूप में चयनित किया है और उत्साहव‌र्द्धन के लिए इन्हें प्रशस्ति पत्र के साथ नकद राशि देकर सम्मानित किया जाएगा। वहीं डीडीयू रेल मंडल ने भी कोरोना वारियर्स अवार्ड देने की घोषणा की है। रेलमंडल प्रबंधक पंकज सक्सेना ने कहा कि कोरोना के खिलाफ लड़ाई में हमारे रेलकर्मी बढ चढ़कर भागीदारी निभाई है। मंडल के संकेत एवं दूरसंचार विभाग ने रेलकर्मी विरेंद्र पासवान के नेतृत्व में मुडियार ग्राम को गोद लेकर जरुरतमंद लोगों की सहायता एवं सुरक्षा में सराहनीय योगदान दिया है। इस उत्कृष्ट कार्य को देखते हुए इन्हें कोरोना वारियर्स अवार्ड से सम्मानित किए जाने का निर्णय लिया गया है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस