प्रखंड क्षेत्र में कई समाजसेवी अपने बलबुते क्वारंटाइन सेंटर चलाने के लिए आगे आए हैं। बीडीओ से आदेश लेकर प्राथमिक विद्यालय ऐमनडिहरी में 22 प्रवासी कामगारों के लिए ब्राह्मण चेतना संघ के संस्थापक सह समाजसेवी अनिल चौबे द्वारा किट समेत खाने पीने और सोने की समुचित व्यवस्था की गई है। वहां रह रहे प्रवासी कामगारों ने कहा कि अगर अपने ही राज्य मे काम मिल जाए, तो अन्य प्रदेशों में जाने की कोई जरूरत नही है।

अनिल चौबे ने बताया कि मानवता की सेवा करने मे जो आनंद मिलता है, उससे बड़ा सुकून कहीं नहीं मिलता। उन्होंने कहा कि बड़े भाग्य से किसी जरूरतमंद की सेवा करने का मौका मिलता है। वहीं मध्य विद्यालय रीवा एवं माती मे जदयू के पंचायत अध्यक्ष बलदेव सिंह द्वारा भी 70 प्रवासी कामगारों को सारी व्यवस्था दी जा रही है। इन कामगारों ने दोनों समाजसेवी के प्रति आभार प्रकट किया। बीडीओ मोहम्मद असलम ने दोनो समाजसेवियों द्वारा कामगारों के लिए व्यवस्था करने की पुष्टि करते हुए कहा कि बडे दिल वाले ही मानवता की सेवा करने का जज्बा रखते हैं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस