रोहतास। प्रखंड कार्यालय स्थित सभागार में मंगलवार को पंचायत समिति की बैठक प्रभारी प्रमुख सह उप प्रमुख तेज प्रताप सिंह की अध्यक्षता में हुई। जिसमें गत बैठक की सम्पुष्टी की गई। बैठक में पंचायत सचिव मुनीलाल पर विभागीय कार्रवाई करने का प्रस्ताव पारित किया गया।

उप प्रमुख ने बताया कि योजना में लापरवाही बरतने का आरोप था। मुखिया निरंजन चौरसिया ने सभी प्राथमिक विद्यालयों में आए कम्पोजिट फंड की उपयोगिता प्रमाण पत्र संबंधित मुखिया को उपलब्ध कराया जाए। सदस्यों ने बताया कि प्राथमिक विद्यालय त्रिलोकपुर व अररूआ का अपना भवन नहीं है। मुखिया राजू कुमार सिंह ने क्षोभ व्यक्त करते हुए कहा कि बार-बार बैठक होती है लेकिन पारित प्रस्ताव पर कोई कार्रवाई नहीं होती। शिक्षक एवं डीलर के मुद्दे उठाए जाते हैं पर मामला शांत हो जाता है। बीडीसी मालती देवी ने मध्य विद्यालय बभन बरेहटा में पानी पार कर बच्चों के आने-जाने का मामला उठाया। जिसे सदन ने ध्वनि मत से पारित कर दिया। मनरेगा के एकाउंटेंट मुकेश कुमार पर गम्भीर आरोप लगाते हुए कहा कि जब कार्यालय मे प्रवेश किए तो वे टेबुल पर पैर रखकर सो रहे थे। पशु चिकित्सक डॉ. पवन कुमार ने बताया कि अस्पताल में 38 प्रकार की दवा है। गव्य विकास योजना के सम्बन्ध में विस्तृत जानकारी दी। स्वच्छता विकास योजना की जानकारी बीसी कृष्णा सिंह ने दी। अपूर्ण मनरेगा भवन, गिर रहे जलस्तर पर लोगों के बीच जागरुकता पैदा करने, नए आरटीपीएस भवन में कार्य शुरू करने का प्रस्ताव भी पारित किया गया। मौके पर बीडीओ मो. असलम,  मुखिया संघ के अध्यक्ष गुप्तेश्वर सिंह, मुखिया सरोज सिंह, अरविद कुमार सिंह, जगनारायन पासवान, सहित कई विभागों के पदाधिकारी उपस्थित थे। अनुपस्थित रहने वाले विभिन्न विभागों के अधिकारियों पर कार्रवाई के लिए डीएम के पास पत्र लिखने की बात कही गई।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप