रोहतास। अब स्थानीय नगर परिषद क्षेत्र में रह रहे लोगों को रसोई गैस के लिए मोबाइल से नंबर लगाने व रसोई गैस सिलेंडर लाने से जल्द छुटकारा मिलने वाली है। अगले दो-तीन माह में पाइप से रसोई गैस की आपूर्ति रसोई घर तक होने लगेगी।इसके लिए इंडियन आयल कॉरपोरेशन लिमिटेड ने नगर परिषद क्षेत्र में घर-घर रसोई गैस का कनेक्शन लगाने का काम शुरू कर दिया है। कनेक्शन कार्य की इसकी शुरूआत शहर के न्यू एरिया मोहल्ले से की गई है। वार्ड पार्षद सूर्यकांति देवी ने शनिवार को गैस पाइप कनेक्शन लगाने के कार्य का विधिवत शुभारंभ किया।

वार्ड पार्षद की माने तो पाइपलाइन से रसोई गैस की आपूर्ति को ले कनेक्शन करने का कार्य उनके वार्ड में शुरू हो गया है। जनवरी-फरवरी माह तक गैस की आपूर्ति किचेन में पाइप के माध्यम से होने लगेगी। इससे पैसे व समय दोनों की बचत होगी। साथ ही इसके लिए वेंडरों का भी इंतजार नहीं करना पड़ेगा। इस गैस की आपूर्ति बहुत ही सुरक्षित और सस्ती होगी। इससे आमजन को सिलेंडर मंगाने के झंझट से छूटकारा तो मिलेगा ही, उन्हें 24 घंटा निर्बाध गैस प्राप्त होता रहेगा।

बताते चले कि नवंबर 2018 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हल्दिया-जगदीशपुर गैस पाइप लाइन कार्य का शुभारंभ वीडियो कांफ्रेंसिग के माध्यम से किया था। पाइप लाइन रोहतास जिले के 47 गांवों से होकर 44 किलोमीटर की दूरी तय की है। जबकि कैमूर जिला के 43 गांव के 48 किलोमीटर लंबी पाइप लाइन बिछाई गई है। जिले के शिवसगार थाना के छोटकी खैरी व कैमूर जिला के बहेरा गांव के पास टैप आफ टर्मिनल का निर्माण किया गया है, ताकि गैस आपूर्ति की दिशा में किसी प्रकार की बाधा उत्पन्न न हो सके। आइओसी अधिकारियों की मानें तो गैस पाइप लाइन से कनेक्शन आसान के साथ काफी सस्ता भी है। इसमें कई तरह के खर्च भी बचते हैं।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021