पूर्णिया। पूर्व वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा ने कहा है कि केंद्र सरकार आंकड़ों की बाजीगरी कर ध्वस्त हो चुकी अर्थव्यवस्था पर पर्दा डाल रही है। बिहार सरकार आम लोगों से कट गई है। यहां भ्रष्टाचार चरम पर है। 15 साल बनाम 15 साल से जनता उब चुकी है, इसलिए तीसरे विकल्प की जरूरत है।

बाढ़ पीड़ितों की समस्या को लेकर जन संवाद करने पूर्णिया पहुंचे पूर्व वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा ने बुधवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान केंद्र और बिहार सरकार पर जम कर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि बिहार में जनता विकल्प की तलाश कर रही है इसलिए वे लोग यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट (यूडीपी) तीसरा मोर्चा बना कर चुनाव मैदान में उतरेंगे। उन्होंने कहा कि पिछले तीन साल से भारतीय अर्थव्यवस्था मंदी के दौर से गुजर रही है। विकास दर 8 प्रतिशत से 3.5 प्रतिशत पर आ गया है। कोविड-19 के बाद से अर्थव्यवस्था में और ज्यादा गिरावट हुई है। सरकार सिर्फ आंकड़ों की बाजीगरी कर सच को छुपाने की कोशिश कर रही है। देश में 12 करोड़ से ज्यादा मजदूर बेरोजगार हैं। 20 लाख करोड़ का आर्थिक पैकेज झूठ और फरेब के अलावा कुछ नहीं है। प्रधानमंत्री और वित्तमंत्री को सब हरा-हरा दिख रहा है। सच तो यह है कि देश में इन समस्याओं से बचने के लिए कोई इंतजाम नहीं किया गया था। जनता को छला जा रहा है। वहीं मौजूदा बिहार के हालात पर उन्होंने कहा कि बिहार में व्यवस्था चरमराई हुई है। 15 साल बनाम 15 साल का एक बनावटी युद्ध चला रहा है। एक तरफ जंगलराज तो दूसरी तरफ राक्षस राज है। पटना से बैठे लोग बयान दे रहे हैं उन्हें जमीनी समस्या से कोई लेना देना नहीं है। हर जगह भ्रष्टचार व्याप्त है। बिहार का गौरव समाप्त हो गया है। यहां की जनता भी अब 15 साल बनाम 15 की लड़ाई से ऊब चुकी है। जनता को नए विकल्प की तलाश हैं। ऐसे में हम सब बदलो बिहार ,बनाओ बिहार के नारे के साथ विभिन्न दलों के साथ यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट (यूडीपी )तीसरा मोर्चा बना कर चुनाव मैदान में उतरेंगे। साथ ही उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग तय समय पर चुनाव करवाने के लिए आमादा है। वर्तमान समय में चुनाव प्रजातंत्र के साथ माखौल होगा। अभी माहौल ठीक नहीं है बिहार चुनाव आगे बढ़ाना चाहिए ताकि जनता को अपने मत का प्रयोग करने का मौ़का मिल सके। वहीं राम मंदिर निर्माण को लेकर उन्होंने कहा कि यह सुप्रीम कोर्ट का फैसला है। कोर्ट के फैसले पर कोई राजनीति नहीं होनी चाहिए। राम मंदिर निर्माण के मुद्दे की राजनीति गलत है। संवाददाता सम्मेलन के दौरान समाजवादी जनता दल (डी) के संस्थापक पूर्व केंद्रीय मंत्री देवेंद्र प्रसाद यादव,जिलाध्यक्ष धीरेंद्र यादव, बिहार सरकार के पूर्व मंत्री नागमणि,भारतीय सम्पूर्ण क्रांतिकारी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष संजीव कुमार सिंह जनता दल राष्ट्रवादी के मो.अफाक रहमान, लोक जनशक्ति सेक्युलर के सत्यानंद शर्मा समेत अन्य नेता मौजूद थे।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस