संस, श्रीनगर (पूर्णिया) : प्रखंड क्षेत्र के को-ऑपरेटिव बाजार में नौ वर्ष पूर्व लगी हाईमास्ट लाइट लगने के दो माह बाद से ही खराब पड़ी है। आज तक लाइट को दुरुस्त कराने की दिशा में न तो जनप्रतिनिधि और न ही विभागीय अधिकारियों द्वारा कोई सार्थक पहल किया जा रहा है। लाइट बंद रहने के कारण स्थानीय बाजारवासियों को परेशानी होती है जिससे उनमें आक्रोश है। बाजार में लगी हाईमास्ट लाइट सिर्फ शोभा की वस्तु बनकर रह गई है। ग्रामीण भोपाली जायसवाल, दिलीप जायसवाल, अरूण सिन्हा, पप्पू जायसवाल, संजय सिन्हा, मंटू शर्मा, रंजीत कुमार, सुधीर जायसवाल आदि का कहना है कि सरकार एक तरफ लोगों को सुविधा प्रदान करने के लिए कई प्रकार की योजनाएं चला रही हैं लेकिन इस सुविधा का सही लाभ लोगों को नहीं मिल पा रहा है। लाखों की लागत से लाइट लगा दिया गया और उसका भुगतान भी उठा लिया गया लेकिन नौ साल से उसका लाभ लोगों को नहीं मिल रहा है बावजूद अधिकारी कोई कार्रवाई नहीं कर रहे हैं। लाइट लगने से बाजारवासियों में खुशी थी कि अब हमेशा बाजार रोशन रहेगा और अब अंधेरे में दुकानदारी नहीं करनी पड़ेगी लेकिन यह सपना बाजारवासियों का कुछ ही दिनों में चकनाचूर हो गया। बाजारवासियों ने जिलाधिकारी से हाईमास्ट लाइट ठीक करवाने की मांग की है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस