पूर्णिया। बीपीएससी की 65 वीं संयुक्त प्रारंभिक प्रतियोगिता परीक्षा मंगलवार को जिले के सभी 29 केंद्रों पर शांतिपूर्वक संपन्न हो गई किसी भी केंद्र से कदाचार की सूचना नहीं है, न ही एक भी छात्र निष्कासित हुए हैं। परंतु परीक्षा केंद्रों पर काफी संख्या में परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे। 14270 छात्रों में 8464 परीक्षार्थी ही उपस्थित हुए। परीक्षा को लेकर सभी केंद्रों पर व्यापक प्रबंध किए गए थे तथा डीएम, एसडीओ, एसडीपीओ एवं अन्य अधिकारी केंद्रों पर घूम-घूम कर स्थिति का जायजा लेते रहे। वहीं परीक्षा में आसान सवालों से सभी परीक्षार्थी संतुष्ट दिखे पर विशेषज्ञ इस बार कट ऑफ मा‌र्क्स अधिक जाने की संभावना जता रहे हैं।

सुबह से ही लगने लगा छात्रों का जमावड़ा

परीक्षा को लेकर सुबह से ही छात्रों का जमावड़ा शहर में लगने लगा। परीक्षा देने आए छात्रों की संख्या आठ हजार से अधिक होने के कारण जिले में ट्रैफिक समस्या उत्पन्न हो गई। वहीं बाहर से आए छात्रों को केंद्र खोजने में थोड़ी परेशानी भी हुई। महिला छात्राओं को च्वाइस सेंटर दिया गया था। इसलिए अधिकांश छात्राएं लोकल थीं। लेकिन पुरूष छात्र जमुई, पटना आदि जगहों से आए थे जिन्हें सेंटर खोजने में परेशानी भी हुई। खासकर विद्या विहार परोरा आदि सेंटर दूर होने के कारण वहां जाने वाले परीक्षार्थियों को परेशानी झेलनी पड़ी।

आसान सवालों से संतुष्ट दिखे परीक्षार्थी

प्रश्न पत्र से छात्र काफी संतुष्ट दिखे। परीक्षार्थियों के अनुसार अधिकांश सवाल तो सामान्य केटोगरी के थे परंतु हर विषय के कुछ प्रश्न ऐसे थे जो उलझाने वाले थे। खासकर मैथ और करेंट अफेयर्स के सवाल अधिक कन्फ्यूजिंग थे। इतिहास, बिहार करेंट के अधिक प्रश्न थे। वहीं इस बार सभी प्रश्नों के पांच विकल्प दिए गए थे जिससे कन्फ्यूजन वाले सवालों में छात्रों को परेशानी हुई। विशेषज्ञों का मानना है कि आसान प्रश्नों के कारण इस बार कट ऑफ मा‌र्क्स 100 जाने की उम्मीद है। उनका मानना है कि जिन छात्रों ने एनसीईआरटी की पुस्तक का अध्ययन किया होगा, उन्हें अधिक मा‌र्क्स मिलेंगे।

डीएम ने परीक्षा केंद्रों का किया निरीक्षण

कदाचार परीक्षा के लिए डीएम राहुल कुमार मंगलवार को परीक्षा केद्रों का घूम-घूम कर निरीक्षण किया। करीब आधा दर्जन केंद्रों पर डीएम, एसडीओ विनोद कुमार एवं अन्य अधिकारी ने निरीक्षण किया तथा परीक्षा का जायजा लिया। प्रत्येक परीक्षा केंद्र पर स्टैटिक दंडाधिकारी सह प्रेक्षक एवं सशस्त्र बल के साथ पुलिस पदाधिकारी मौजूद थे। इसके अलावा सात जोनल सह गश्ती दल दंडाधिकारी एवं पुलिस पदाधिकारी और पांच सुपर जोनल सह उड़न दस्ता दंडाधिकारी एवं पुलिस पदाधिकारी कदाचार परीक्षा संचालन में जुटे थे। परिणाम स्वरूप सभी 29 केंद्रों पर परीक्षा शांतिपूर्ण संपन्न हो गई।

इन केंद्रों पर आयोजित हुई परीक्षा

बीपीएससी की 65 वीं संयुक्त प्रारंभिक प्रतियोगिता परीक्षा जिले में 29 केंद्रो पर आयोजित हुई जिसमें मिलिया पॉलिटेक्निक, राजकीय कन्या उच्च विद्यालय, बीबीएम उवि, वीवीआइटी, सेंट पीटर हिदी मीडियम स्कूल, उर्स लाइन कॉन्वेंट बालिका उवि, बिजेंद्र पब्लिक स्कूल, एमआइटी रामबाग, पूर्णिया उच्च विद्यालय रामबाग, जिला स्कूल, एसआरडीएवी, मिलिया कॉन्वेंट इंगलिश स्कूल, माउंट कार्मेल इंगलिश स्कूल परोरा, माउंट कार्मेल इंगलिश स्कूल प्रभात कॉलोनी, सेंट पीटर्स इंगलिश मीडियम स्कूल, मानस भारती, पूर्णिया कॉलेज, मां काली उवि मधुबनी, डॉन बॉस्को स्कल, आरपीसी उवि पूणिर्र्या सिटी, स्वदेशी कॉलेज ऑफ एजुकेशन, भोला पासवान शास्त्री कृर्षि महाविद्यालय, जेएलएनएस गुलाबबाग, विद्या विहार आवासीय विद्यालय परोरा, एनडी कॉलेज रामबाग, पूर्णिया महिला कॉलेज, मोहन लाल बजाज बालिका उवि गुलाबबाग, अनचित साह उवि बेलौरी एवं ब्राइट कैरियर स्कूल में शामिल हैं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस