पटना : पीरबहोर थाना क्षेत्र के महेंद्रू के सुरी टोला में रहने वाली 17 वर्षीय आर्या ने सोमवार की रात आत्महत्या कर ली। उसे टिक-टॉक वीडियो बनाने की लत थी, जिसकी वजह से वह पढ़ाई में कमजोर होती जा रही थी। इसी बात को लेकर मां संगीता देवी ने डांट लगाई तो आर्या साड़ी का फंदा बनाकर पंखे से झूल गई। पीएमसीएच (पटना मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल) के टीओपी प्रभारी अमित कुमार ने बताया कि पोस्टमॉर्टम के बाद आर्या का शव स्वजनों को सौंप दिया गया।

जानकारी के अनुसार, आर्या सुरी इंटरमीडिएट की छात्रा थी। उसके पिता राकेश कुमार का निधन हो गया था। तब से मां संगीता देवी ही उसकी परवरिश करती आ रही थीं। संगीता उसे पढ़ा-लिखा कर अफसर बनाना चाहती थीं, लेकिन आर्या को टिक-टॉक वीडियो बनाने की आदत लग गई थी। मां का मानना था कि इसके कारण ही पिछले साल परीक्षा में उसे कम अंक आए थे। सोमवार की रात संगीता ने जब आर्या को वीडियो बनाते हुए देखा तो उन्होंने डांट-फटकार की। इसके बाद आर्या कमरे में चली गई। रात करीब डेढ़ बजे उनकी नींद खुली और वह आर्या के कमरे की तरफ गई तो दरवाजा अंदर से बंद मिला। आर्या अक्सर दरवाजा खोल कर सोती थी। संदेह होने पर उन्होंने खिड़की से झांककर देखा तो वह उनकी ही साड़ी का फंदा बनाकर सीलिंग में लगे पंखे की खूंटी से झूल रही थी। संगीता शोर मचाने लगीं। उनकी आवाज सुनकर आस-पड़ोस के लोग जुटे और आनन-फानन में आर्या को पीएमसीएच ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस