पटना । लोकनायक जयप्रकाश नारायण अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा पर शनिवार की रात उस वक्त अफरा-तफरी मच गई, जब एक यात्री दौड़ते हुए गो-एयर की फ्लाइट में चढ़ गया। सुरक्षाकर्मी भी उसके पीछे दौड़ते हुए विमान में घुसे। उसने उतारने के बाद तलाशी ली। इतने से भी सुरक्षाकर्मी संतुष्ट नहीं हुए तो विमान को एक घंटे तक रोककर सभी यात्रियों और उनके सामान की तलाशी ली गई। हालांकि, इस दौरान कोई आपत्तिजनक सामान नहीं मिला। तब विमान को दिल्ली के लिए रवाना किया गया।

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, गो-एयर की फ्लाइट संख्या (जी-8 150) के सभी यात्री बोर्ड कर चुके थे। एक यात्री सिक्योरिटी चेक-इन कराने के बाद दौड़ते हुए गेट तक गया। उसने बोर्डिग पास को स्कैन कराया और फिर दौड़ते हुए विमान तक पहुंच गया। सुरक्षा में तैनात सीआइएसएफ के जवान भी उसके पीछे दौड़े। तब तक वह विमान पर चढ़ चुका था। पूरी छानबीन करने के बाद सीआइएसएफ जवान दोबारा लॉबी में आए। वहां गेट के पास विभिन्न गेट पर स्पाइस जेट और इंडिगो के यात्री कतार में खड़े थे। सीआइएफएस जवानों ने उनकी भी तलाशी ली। सामान की दोबारा जांच की गई। तब उन्हें बोर्ड करने दिया गया। सीआइएसएफ के वरिष्ठ कमांडेंट विशाल दुबे ने बताया कि अभी एयरपोर्ट को विशेष सुरक्षा कवर में रखा गया है। 15 से 31 अगस्त तक यात्रियों के बोर्ड होने के बाद भी सामान की तलाशी ली जा रही है। इसी क्रम में शनिवार को पटना से दिल्ली जा रही स्पाइस जेट, गो-एयर और इंडिगो के यात्रियों की दोबारा तलाशी ली गई। यात्रियों की सुरक्षा के लिए ही इस तरह के कदम उठाए जा रहे हैं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस