मनेर में हजरत मखदूम बहाउद्दीन शाह का 370 वा सालाना उर्स अदब-ओ-एहतराम के साथ मनाया गया। बुधवार को कुल शरीफ के मौके पर बड़तल क्षेत्र स्थित मजार पर अकीदतमंद उमड़ पड़े। कुलशरीफ के बाद हुई दुआ में मुल्क में फिरकापरस्ती और दहशतगर्दी से निजात और शहर व मुल्क के अमन-चैन की दुआ कराई गई। शहर के इस सबसे बड़े उर्स में हिंदू-मुस्लिम समेत सभी वगरें के लोगों ने हाजिरी लगाई और मन्नतें मानीं। बुधवार रात को खानकाह में हुई महफिल-ए-समा के दौरान ही अकीदतमंदों का दरगाह पर आना शुरू हो गया था। मगरीब की नमाज के बाद श्रद्धालु पहुंचने लगे। हिंदू-मुस्लिम समेत सभी वगरें के लोगों ने मन्नतें मानीं। जिनकी मुरादें पूरी हो गई थीं, उन्होंने अपनी मन्नतें पूरी कीं। चादर चढ़ाई। जगह-जगह जायरीनों में तबर्रुक बाटा गया। कुल शरीफ के मौके पर सैयद सगीर हुसैन अशर्फी, पार्षद रविन्द्र सौण्डिक, अजमल हुसैन, बबलू हुसैन, मौलाना ताजुद्दीन, सफीर हुसैन, मदरसा के मौलाना सरफराज, संजय सौण्डिक, टिकू चौरसिया, सतीष गुप्ता, फैज इमाम ने कुल की रस्म अदा कराई। इस दौरान फातेहा पढ़ा गया। मदरसा संचालक मौलाना साहब ने दुआ कराई। इसमें दहशतगर्दी, फिरकापरस्ती से निजात, मुल्क में अमन-चैन, गरीब बेटियों की शादी, मिया-बीवी के बिगड़े रिश्तों को बनाने, इस दुनिया से विदा हो चुके लोगों की बख्शिश की दुआ की गई। पीर नसीरुद्दीन रहमतुल्लाह अलैह का उर्स बड़ी धूम-धाम से मना

खगौल में रहनुमा-ए-कौम कब्रिस्तान कमेटी के जरिये हजरत सैयद शाह पीर नसीरुद्दीन रहमतुल्लाह अलैह का उर्स बड़ी धूम-धाम और अकीदत के साथ मनाया गया। इनके चाहने वालों ने मज़ार शरीफ पर फूल और चादर चढ़ाया। दुनिया में अमन-शान्ति विशेष कर हिन्दुस्तान में शांति और भाईचारगी कायम रहने की दुआ की। कमेटी के अध्यक्ष मोहम्मद सोनू ने बताया कि इस उर्स में सभी धमरें का सहयोग मिला। चादर चढ़ाने वालों में मोहम्मद वसीम अशरफी, मोहम्मद आजाद टेंट, मोहम्मद याहिया हुसैन, मोहम्मद रिंकू ताज एकता कमेटी और नूर औलिया एकता कमेटी आदि की ओर से चादर चढ़ायी। इस मौके पर समाज सेवा युवा मंच के विष्णु गुप्ता और मो. सैफ अख्तर के नेतृत्व में प्रसाद का वितरण किया गया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस