पटना (बाढ़)। नीतीश कुमार के 15 वर्षो के शासनकाल में लाखों युवाओं को नौकरी मिली। वहीं पति-पत्नी के शासनकाल में लाखों लोगों ने बिहार छोड़कर दूसरे राज्यों में अपना आसियाना बनाया। आज बेरोजगारी हटाओ यात्रा कर राजनीति में अपनी जमीन तलाश रहे हैं। उक्त बातें मुंगेर के सासद राजीव रंजन उर्फ ललन सिंह ने बेलछी प्रखंड में जनसंपर्क अभियान के तहत आयोजित समारोह के दौरान कहीं।

सांसद ने कहा कि नीतीश कुमार के शासन काल में बिहार का नाम देश-दुनिया में रौशन हुआ है। आज लोग अपने को बिहारी कहने में गर्व महसूस करते हैं। राजद के शासनकाल मे बिहार के माथे पर लगा दाग धुल चुका है। बिहार विकास में लंबी छलाग लगा कर विकसित राज्यों की श्रेणी आ रहा है। दहेज उन्मूलन, बाल विवाह, शराबबंदी के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए प्रदेश में अभियान चलाया जा रहा है। मुख्यमंत्री के सात निश्चय के तहत हर घर नल योजना का काम तेजी हो रहा है। सरकार लोगों को स्वच्छ पेयजल उपलब्ध कराने के लिए तत्पर है।

उन्होंने कहा कि उच्चशिक्षा के लिए अब गरीब परिवारों की परेशानी खत्म हो गई है। शिक्षा के लिए सरकार उन्हें बैंकों के माध्यम से कर्ज उपलब्ध करा रही है। जल-जीवन-हरियाली के तहत कुआं, तालाब व पोखरों आदि का जीर्णोद्धार किया जा रहा है। सासद का कहना है कि वे क्षेत्र का दौरा कर लोगों की समस्याओं को सुन रहे हैं। उनकी समस्याओं का तेजी से निपटारा किया रहा है।

बिहार सरकार के सूचना व जनसंपर्क मंत्री नीरज कुमार ने कहा कि पारिवारिक अनुकंपा पर राजनीति में कदम रखने वाले लोगों की यात्रा कभी पूर्ण नहीं होती है। जमीन दो नौकरी लो का सिस्टम अब बिहार में चलनेवाला नहीं है। अतिपिछड़ों के साथ जालसाजी करनेवाले लोगों को जनता ने हाशिये पर पहुंचा दिया है। बिहार में आज कानून का राज है। बिहार के गाव बिजली की रोशनी से जगमगा रहे हैं। लालटेन की लौ कब की बुझ चुकी है। राजद के जंगलराज को याद कर आज भी लोग सिहर उठते हैं। अपराधी चाहे कितना दबंग हो उसकी जगह अब जेल में है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अगुवाई में चुनाव होगा। बिहार में फिर से एनडीए की सरकार बनेगी। नीतीश कुमार फिर प्रदेश के मुख्यमंत्री बनेंगे। बेरोजगारी हटाओ यात्रा करनेवाले फिर से बेरोजगार हो जाएंगे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस