पटना, जेएनएन। बिहार की राजधानी एक बार फिर क्राइम की खबर से सुर्खियों में आ गई है। पटना में बुधवार को दो हत्याओं से सनसनी मच गई है। ये घटनाएं गौरीचक थाना क्षेत्र और बाढ़ इलाके में हुई। गौरीचक में प्रॉपर्टी डीलर को आठ से नौ की संख्या में आए बदमाशों ने कनपटी पर सटाकर दो गोली मार दी। दो गोली लगने से जमीन कारोबारी की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। मृतक की पहचान बीवीपुर निवासी इंद्रजीत यादव के पुत्र धर्मेंद्र यादव (55) के रूप में हुई है। वारदात को अंजाम देकर आरोपित फरार हो गए। वहीं बाढ़ में एक युवक की हत्या कर उसका शव फेंक दिया गया।

घर से महज 100 मीटर की दूरी पर मारी गोली

गौरीचक थाना क्षेत्र के बीवीपुर निवासी धमेंद्र यादव जमीन कारोबारी थे। बताया जाता है कि बुधवार की सुबह वे अपने घर से कहीं जाने के लिए निकले थे। अभी वे घर के दरवाजे से महज 100 मीटर ही आगे बढ़े थे कि आठ से नौ की संख्या में अपराधी आ धमके। इसके पहले धर्मेंद्र कुछ समझ पाते उनमें से एक ने पिस्टल निकाली और धर्मेंद्र की कनपटी पर सटाकर दो गोली मार दी। वारदात को अंजाम देने के बाद बाइक सवार अपराधी फरार हो गए। दो गाली लगने से धर्मेंद्र की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। सूचना पर पहुंची गौरीचक थाने की पुलिस ने मामले की छानबीन शुरू कर दी है। पुलिस ने मृतक के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार पिछले साल भी धर्मेंद्र पर जानलेवा हमला किया गया था। जिसमें वे बाल-बाल बच गए थे। बुधवार को अपराधी हत्या की सुनियोजित तैयारी के साथ आए थे।

हत्याकर रेलवे हाल्ट पर फेंका शव

दूसरी वारदात पटना के बाढ़ इलाके में हुई। मंगलवार की देर रात एनटीपीसी थाना क्षेत्र में एक युवक को गोली मार दी गई। गोली लगने से युवक की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। मौत के बाद शव को बदमाशों ने परसावा रेल हाल्ट पर फेंक दिया और फरार हो गए। बुधवार की सुबह जब ग्रामीणों ने शव देखा तो एनटीपीसी थाना क्षेत्र की पुलिस को खबर दी। मृतक की पहचान एनटीपीसी थाना क्षेत्र के पंचमहला निवासी गोविंद दास के रूप में हुई है।

Posted By: Akshay Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस