पटना, जेएनएन। राजधानी में मंगलवार की सुबह दर्दनाक हादसा हो गया। बिहटा थाना क्षेत्र में एक नवनिर्मित मकान के शौचालय की टंकी में स्कूल से लौट रहीं दो बच्चियां गिर गईं। घटना के बाद स्थानीय लोगों ने दोनों की खोजबीन शुरू कर दी। जबतक उनको पानी भरी टंकी से बाहर निकाला जाता दोनों की मौत हो चुकी थी। मृतक की पहचान कन्हौली गांव निवासी सुरेंद्र यादव की पुत्री अमृता कुमारी (8) और श्रवण यादव की पुत्री छोटी कुमारी (7) के रूप में हुई है। हादसे के बाद परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।

मिली जानकारी के अनुसार सुरेंद्र यादव की पुत्री अमृता और श्रवण यादव की पुत्री छोटी मंगलवार को स्कूल से घर वापस लौट रही थीं। कन्हौली गांव में एक मकान का निर्माण चल रहा था। मकान के बाहरी छोर पर शौचालय की टंकी बनी थी। जो भारी बाऱिश के कारण पानी से ढक गई थी। बच्चियों को पानी के नीचे टंकी के लिए बना गड्ढ़ा नहीं दिखा और दोनों अंदर चली गईं।

देखते ही देखते घटना स्थल पर चीफ-पुकान मचने लगी। तुरंत स्थानीय लोगों ने पुलिस को खबर करते हुए अपनी ओर से कोशिश शुरू कर दी। जबतक दोनों बच्चियों को टंकी से निकाला जाता उनकी सांसें थम चुकी थीं। हादसे के बाद परिजनों को रो-रोकर बुरा हाल है। दोनों की उम्र सात और आठ साल के बीच थी। बारिश के बाद पटना में डूबने से कई मौतें हो चुकी हैं।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस