पटना, जागरण संवाददाता। बच्‍चों को अक्‍सर शिक्षा दी जाती है कि झूठ बोलना पाप है। कुछ ऐसा ही पटना के पुलिस अधिकारी को अब महसूस हो रहा होगा। झूठ बोलना उनके लिए महंगा पड़ गया है। दरअसल वरीय अधिकारियों को गलत रिपोर्ट देकर भ्रमित करने और अपराध नियंत्रण में असफल बेउर के थानाध्यक्ष धनंजय कुमार (Beur SHO Dhananjay Kumar) को निलंबित कर दिया गया है। बुधवार की देर शाम जांच रिपोर्ट मिलने के बाद रेंज आइजी संजय सिंह ने थानेदार के सस्पेंशन की कार्रवाई कर दी। उनकी जगह थाने का प्रभार प्रशिक्षु डीएसपी प्रांजल त्रिपाठी को सौंप दिया गया। वहीं पटना पुलिस बल में तैनात सिपाही पवन कुमार को भी सस्पेंड कर दिया गया है। 

दो-तीन मामलोंं में सौंप दी थी गलत रिपोर्ट   

पुलिस सूत्रों की मानें तो बेउर थानेदार के खिलाफ लगातार शिकायतें मिल रही थी। लंबित कांडों के उद्भेदन में भी रूचि नहीं लेते है। लगातार केसों में अनुसंधान को लेकर दिशा-निर्देश दिए जा रहे थे, लेकिन उसका पालन सही ढंग से नहीं हो रहा था। हाल के दो तीन मामलों में उन्होंने वरीय अधिकारी को गलत रिपोर्ट सौंप दी थी। इसके बाद एएसपी फुलवारीशरीफ ने जांच कर एसएसपी को रिपोर्ट सौंप दी। उक्त थानेदार से विभागीय कार्यवाई के विरूद्ध आरोप गठित कर स्पष्टीकरण मांगा गया है। वहीं, सिपाही पवन पर आरोप है कि उका स्थानांतरण नालंदा जिला में कर दिया गया था, लेकिन इन्होंने आइजी रेंज कार्यालय को अपनी सेवा नियुक्ति की गलत तिथि बताकर विभागीय अधिकारियों को भ्रमित करने का प्रयास किया।

अजय बने बीएमपी 16 मेंस  एसोसिएशन के अध्यक्ष

बीएमपी 16 मेंस एसोसिएशन के अध्यक्ष अजय कुमार बने है। बुधवार को हुए चुनाव में अजय 176 मत मिले, जबकि अंजेश को 55 मतों से संतोष करना पड़ा। वहीं उपाध्यक्ष पद पर हरेंद्र कुमार, सचिव पद पर सुबोध कुमार, जबकि आबिद अली कोषाध्यक्ष चुने गए। संयुक्त सचिव जयप्रकाश, मुख्यालय कंपनी प्रतिनिधि पद पर रामाकांत महतो चुने गए।

Edited By: Vyas Chandra

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट