पटना, राज्य ब्यूरो। भाकपा नेता व जेएनयू छात्रसंघ के पूर्व अध्‍यक्ष कन्‍हैया कुमार पर रोज-रोज के हमले को लेकर पार्टी में उनकी सुरक्षा की मांग उठने लगी है। वाम नेताओं ने नीतीश सरकार से कन्‍हैया कुमार की सुरक्षा की गारंटी लेने को कहा है। बता दें कि 26 जनवरी से वामदलों की ओर से बिहार में जन मन यात्रा चलायी जा रही है। इसका नेतृत्‍व कन्‍हैया कुमार कर रहे हैं।

जानकारी के अनुसार, जन मन यात्रा के दौरान भाकपा के युवा नेता कन्‍हैया कुमार पर जगह-जगह हमले किए जा रहे हैं। कहीं पथराव हो रहा है तो कहीं काले झंडे दिखाए जा रहे हैं। शुक्रवार को तो आरा में अब तक का सबसे बड़ा हमला हो गया। गजराजगंज थाना क्षेत्र में उग्र भीड़ को देखते हुए कन्‍हैया को जान बचाकर भागना पड़ा।  

हालांकि, शनिवार को अरवल-जहानाबाद के दौरे के क्रम में शांति रही। टाइट सुरक्षा व्‍यवस्‍था रहने के कारण पथराव जैसी कोई घटना नहीं हुई। लेकिन कन्‍हैया पर लगातार हमले को देखते हुए भाकपा ने उन्‍हें सुरक्षा की गारंटी देने की मांग राज्य सरकार से की है। इस बाबत पार्टी के महासचिव डी. राजा ने बिहार में कई जगहों पर कन्हैया कुमार पर हुए जानलेवा हमले पर गंभीर चिंता प्रकट करते हुए उन्हें पूर्ण सुरक्षा देने की मांग मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से की है। इस संबंध में डी.राजा ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखा है। 

भाकपा के राज्य सचिव सत्य नारायण सिंह ने शनिवार को पत्रकारों को बताया कि डी. राजा ने मुख्यमंत्री को लिखे पत्र में कन्हैया कुमार को पूरी  सुरक्षा मुहैया कराने व हमलों के दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है। उन्होंने आरोप लगाया कि राज्य में कन्हैया कुमार की जनसभाओं में उमड़ रही भीड़ से भाजपा बौखला गई है। अबतक कन्हैया कुमार पर आठ बार हमले हो चुके हैं। हैरानी की बात यह कि अबतक एक भी हमलावर नहीं पकड़ा गया है और न ही प्राथमिकी दर्ज हुई है। जबकि सभास्थल पर पुलिस भी मौजूद रहती है। पुलिस वीडियो फुटेज देखकर भी हमलावरों की पहचान कर सकती है, लेकिन पुलिस यह कदम भी नहीं उठा रही।

Posted By: Rajesh Thakur

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस