पटना, जागरण संवाददाता। उत्तर प्रदेश (UP) में शादी की तैयारी चल रही थी, शुक्रवार को घर पर हल्दी का कार्यक्रम तय था। दुल्हन यूपी में अपने दुल्हे का इंतजार करती रही इधर पटना पुलिस ने बिट्टू को उठा लिया। शराब पीने और बेचने वालों से लेकर बड़े तस्करों की गिरफ्तारी में जुटी पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है। दीघा और राजीव नगर थाने की संयुक्त पुलिस टीम ने गुरुवार की देर रात दीघा-आशियाना रोड पर लग्जरी कार में सवार शराब तस्कर बिट्टू को उसके दो अन्य साथियों के साथ गिरफ्तार कर लिया। कार से महंगी शराब बरामद हुई है। दीघा पोल्सन रोड पर कोल्डड्रिंक गोदाम में छापेमारी के बाद पुलिस को बिट्टू के बारे में इनपुट मिला था। बिट्टू के एसकेपुरी थाना क्षेत्र में हुई गुलदस्ता कांड का मुख्य आरोपित भी रह चुका है। उसके खिलाफ कई मामले दर्ज है। पार्टी में भीड़ जुटाने से लेकर बाइकर्स गैंग चलाने वाला बिट्टू पूर्व में भी जेल जा चुका है। 

सूची बनाकर बड़े तस्करों की तलाश में जुटी है पुलिस

गुरुवार की देर रात कोतवाली डीएसपी ला एंड आर्डर के नेतृत्व में दीघा और राजीव नगर थाने की पुलिस दीघा आशियाना रोड पर वाहनों की जांच कर रही थी। सूचना मिली कि बिट्टू अपने दो अन्य साथियों के साथ लग्जरी कार से शराब लेकर कहीं जा रहा है। पुलिस ने तकनीकी अनुंसधान कर उसका लोकेशन ट्रेस किया। देर रात पुलिस ने उसकी कार को घेर लिया।कार से शराब भी बरामद हुई।। सूत्रों की मानें तो पुलिस होम डिलीवरी, सप्लायर और बड़े शराब तस्करों की पहचान कर उनका सत्यापन कर रही है। फिर उनकी गिरफ्तारी के लिए दबिश दे रही है।

पोस्टर चिपकाने से लेकर शराब तस्करी तक

सूत्रों की मानें तो बिट्टू पूर्व में दीवार पर पोस्टर और होर्डिंग लगाने का काम करता था। इसके बाद चोरी और लूटकांड में शामिल हो गया। एसकेपुरी थाना क्षेत्र में उसने गिरोह के साथ दिनदहाड़े फ्लैट में डकैती की वारदात को अंजाम दिया। गुलदस्ता देकर फ्लैट का दरवाजा खुलवाया गया और लूटपाट की गई। फिर वह पार्टी के लिए भीड़ जुटाने का काम करने लगा, जिससे उसकी जान-पहचान बढ़ गई। फिर बिट्टू ने बाइकर्स गैंग बनाया, जिसमें कई लड़कों को शामिल किया। गिरोह के जरिए शराब की तस्करी से लेकर आर्म्स तस्करी तक में इसकी भूमिका सामने आने लगी। सूत्रों की मानें तो कभी झोपड़ी में रहने वाला अब लग्जरी कार से घूमने लगा। पुलिस उसके बैंक अकाउंट को भी खंगालेगी।

Edited By: Rahul Kumar