पटना राज्य ब्यूरो। लालू परिवार का फैमिली ड्रामा फिर एक बार सड़क पर दिखा, जब राबड़ी देवी की तरफ से दो पिकअप वैन में बहू एेश्वर्या का सामान उनके पिता चंद्रिका राय के घर भिजवा दिया गया और चंद्रिका राय ने इसपर कड़ी आपत्ति जताते हुए मीडिया के कैमरे के सामने खूब हाय-तौबा मचाया है। उन्होंने सामान लेने से यह कहते हुए इन्कार कर दिया कि मुझे फंसाने की साजिश हो सकती है, या आपत्तिजनक सामान भी हो सकता है।

इस ड्रामे के बीच तेजप्रताप यादव ने इंस्टाग्राम पर अपनी तस्वीर शेयर की और लिखा- Its not my attitude, its my style. तेजप्रताप पटना के किसी मॉल में शायद शॉपिंग कर रहे थे और वहीं से उन्होंने सोशल मीडिया साइट्स इंस्टाग्राम पर अपनी तस्वीर शेयर की।

फंस गया वाहन चालक, बोला- कुछ भी नहीं खाया, अब क्या करें

वहीं इस ड्रामे में रातभर पिकअप वैन के ड्राइवर परेशान रहे और रात जागकर सड़क किनारे काटी। चंद्रिका राय के घर के बाहर दो पिकअप वैन से ऐश्वर्या का सामान लेकर पहुंचे ड्राइवर रवि व संजय ने देर रात बताया कि हम क्या करें, कुछ समझ में नहीं आ रहा। सामान के साथ जो गार्ड आए थे, वह झगड़ा कर वापस चले गए। हमको ठंड में यूं ही रुकना पड़ रहा है।

उन्होंने कहा कि जो सामान हमारे पिकअप वैन पर लदा है वो कीमती सामान है, इसे हम कहां और कैसे उतार कर बाहर छोड़ दें? रातभर हम लोग भूखे हैं, खाना भी नहीं खाया। पता नहीं यहां और कब तक रुकना होगा। 

रवि और संजय ने बताया कि प्रति वाहन एक हजार की दर से किराया तय किया गया था। राबड़ी देवी के आवास में गाड़ी को भीतर ले जाया गया। घर के भीतर के कमरे का ताला तोड़कर सामान निकाला गया। उसकी वीडियोग्राफी भी हुई। सामान को पिकअप वैन पर चढ़ाने में पुलिस वालों ने भी मदद की।

पांच बजे शाम को सामान लोड हुआ। वाहन को चंद्रिका राय के आवास पर लगाकर हमलोग सामान उतारने के लिए रस्सी खोलने लगे तब तक साथ आए गार्ड और चंद्रिका राय के गार्ड के बीच झगड़ा हुआ। इसके बाद साथ आए गार्ड वापस चले गए और हमलोग फंस गए। 

गुस्से में बोले चंद्रिका राय-पुलिस इस सामान को जब्त करे

चंद्रिका राय ने कहा कि हम ये सामान नहीं लेंगे, पुलिस इस सामान को जब्त करे। उन्होंने आरोप राबड़ी देवी पर आरोप लगाया कि वे ऐश्वर्या व तेजप्रताप के बीच परिवार न्यायालय में चल रहे तलाक के मामले को प्रभावित करने की कोशिश कर रहीं हैं। मालूम हो कि लालू प्रसाद के बड़े पुत्र व पूर्व मंत्री तेजप्रताप यादव की पत्नी ऐश्वर्या इन दिनों अपने पिता चंद्रिका राय के आवास पर रह रही हैैं।

चंद्रिका राय ने बताया कि दो पिकअप वैन में सामान लेकर देर शाम कुछ पुलिस वाले उनके आवास पर पहुंचे। ये पुलिस वाले राबड़ी देवी के आवास पर रहते हैैं। उनके साथ चार-पांच और लोग थे। वे जबरन सामान को उतारना चाह रहे थे पर उन्हें रोका गया।

कहा-राबड़ी देवी ने ऐश्वर्या का गहना रख लिया

उन्होंने कहा कि जिस पिकअप वैन में सामान आया है, हो सकता है उसमें अवैध सामान भी हों। चंद्रिका राय ने कहा कि राबड़ी देवी ने ऐश्वर्या के आभूषणों को अपने पास रख लिया है। उसे उन्होंने वापस नहीं किया है। मैं राबड़ी देवी परिवार के सभी लोगों पर केस करूंगा। 

विदित हो कि ऐश्वर्या ने पिछले दिनों अपनी सास व पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी पर बाल खींच कर मारने-पीटने व प्रताडि़त करने का मुकदमा किया था। राबड़ी देवी की ओर से भी मुकदमा किया गया था। मुकदमे के बाद ऐश्वर्या अपने पिता के घर चली आईं थीं। हाल ही में परिवार न्यायालय ने ऐश्वर्या- तेजप्रताप मामले में तेजप्रताप को यह निर्देश दिया है कि वह प्रति माह 22 हजार रुपए का गुजारा भत्ता ऐश्वर्या को देंगे।

ऐश्वर्या की मां ने सामान वापस करने की मांग की थी : मीसा भारती

 बहू ऐश्वर्या राय की शादी में उनके मायके से मिले सामान को वापस ऐश्वर्या के घर पहुंचाने पर लालू परिवार ने सफाई दी है। लालू प्रसाद की पुत्री व राज्यसभा सदस्य डॉ. मीसा भारती ने कहा कि ऐश्वर्या की मां पूर्णिमा राय ने सामान वापस करने की मांग की थी। उनके कहने पर ही सामान वापस किया गया। उन्हें तो यह बताना चाहिए कि कौन सा सामान वापस नहीं हुआ। 

अपनी सफाई के क्रम में ऐश्वर्या की मां द्वारा इस बारे मेंं महिला हेल्पलाइन को लिखे गए एक पत्र का जिक्र भी लालू परिवार कर रहा है। मीसा ने कहा कि चंद्रिका राय ने मेरे परिवार पर गलत आरोप लगाए हैं। वे मानसिक संतुलन खो चुके हैं तथा सस्ती लोकप्रियता के लिए नाटक करते रहते हैं।  

 

Posted By: Kajal Kumari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस