मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

पटना, जेएनएन। राजद सुप्रीमो लालू यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव ने फिर से बागी तेवर अख्तियार कर लिया है। अब वे अपने ससुर चंद्रिका राय को सारण लोकसभा सीट का टिकट दिए जाने से नाराज हो गए हैं, क्योंकि पत्नी एेशवर्या से तलाक की एक वजह उन्होंने ये भी बताया था कि एेश्वर्या अपने पिता के लिए सारण सीट से टिकट के लिए उनपर दबाव बना रही थीं।

जानकारी के मुताबिक अब अपने ससुर को सारण से टिकट दिए जाने के बाद तेज प्रताप बड़ा फैसला ले सकते हैं। सारण सीट से अपने ससुर चंद्रिका राय के खिलाफ वे निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में मैदान में उतर सकते हैं।

बता दें, तेज प्रताप यादव के भाई तेजस्वी यादव ने शुक्रवार को राजद के प्रत्याशियों का ऐलान किया है और उन्होंने जैसे ही सारण से तेज प्रताप के ससुर चंद्रिका राय को टिकट दिया, वैसे ही खबर आने लगी कि तेज प्रताप इस फैसले से नाराज हो गए और उन्होंने सारण से निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर उतरने का मन बना लिया है। हालांकि, इसका आधिकारिक एलान नहीं किया गया है।

इससे पहले गुरुवार को तेज प्रताप यादव ने अपने दो प्रत्याशियों के लिए राजद से शिवहर और जहानाबाद सीट के लिए टिकट देने की मांग की थी और इसके एलान के लिए वो प्रेस कान्फ्रेंस करने वाले थे। लेकिन ऐन मौके पर पिता लालू यादव के हस्तक्षेप के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस कैंसिल कर दी। इतना ही नहीं  इसके थोड़ी ही देर बाद तेज प्रताप ने छात्र राजद के संरक्षक पद से इस्तीफा दे दिया।

 

Posted By: Kajal Kumari

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप