जागरण टीम, पटना। बिहार के उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने सोमवार को सोनिया गांधी से लालू-नीतीश के साथ जाकर मिलने की चर्चा पर मुहर लगा दी। पटना एयरपोर्ट पर उन्होंने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष के विदेश से लौटने पर राष्ट्रीय जनता दल (राजद) सुप्रीमो और बिहार के मुख्यमंत्री एक साथ उनसे मिलने दिल्ली जाएंगे। उन्होंने कहा कि विपक्ष को गोलबंद करना है। इसके लिए कई बड़े नेताओं से पहले मुलाकात हुई है। सोनिया वापस आएंगी तो दोनों नेता भेंट करने जाएंगे। दस लाख रोजगार पर प्रशांत किशोर के कटाक्ष से जुड़े सवाल पर तेजस्वी ने कहा कि जिनको भरोसा नहीं है वो थोड़ा इंतजार का मजा लें। 

हम सरकार में, हमारा कमेटमेंट है

मीडिया से बातचीत में चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने कहा था कि अगर तेजस्वी दस लाख बेरोजगारों को रोजगार दे दें तो मैं जदयू में शामिल हो जाऊंगा। इस पर तेजस्वी से प्रतिक्रिया मांगी गई तो उन्होंने कहा कि कौन क्या कहता है उसपर ज्यादा बातें नहीं करनी। हम सरकार में हैं। हमारा कमेटमेंट है, जिनको भरोसा नहीं है वो थोड़ा इंतजार का मजा लें। देश में भाजपा के विकल्प से जुड़े सवाल पर बिहार के डिप्टी सीएम ने कहा कि हम विपक्ष को एकजुट करने की मुहिम में लगे हैं। कोशिश सबको गोलबंद करने की है। ऐसे में लालू और नीतीश कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मिलने एक साथ दिल्ली जाएंगे।

सुबूत पेश किया है, दोनों आंखों से देख लें

बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री व राज्यसभा सदस्य सुशील कुमार मोदी द्वारा राजद कोटे के मंत्रियों के दागदार होने के आरोप से जुड़े सवाल पर तेजस्वी ने कहा कि हमने सुबूत पेश किया है। एक से नहीं दोनों आंखों से देख लें। तेजस्वी ने कहा कि भाजपा को अपने केंद्रीय मंत्री के साथ ही यूपी के सीएम पर भी ध्यान देना चाहिए। 

Edited By: Akshay Pandey

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट