पटना, जेएनएन। राष्‍ट्रीय जनता दल RJD) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) के बेटे तेज प्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) ने अपने जन्‍मदिन (Birthday) के अवसर पर उन्‍हें बहुत मिस किया। उन्‍होंने मां राबड़ी देवी (Rabri Devi) से आशीर्वाद लिया तथा पिता की याद में उनके नाम से पटना में कोरोना (CoronaVirus) व लॉकडाउन (Lockdown) से परेशान गरीबों के लिए गुरुवार को 'लालू की रसोई' (Lalu Ki Rasoi) की शुरुआत की।

सादगी से मनाया जन्‍मदिन, मां का लिया आशीर्वाद

लालू के बेटे तेज प्रताप ने गुरुवार को अपना जन्‍मदिन सादगी से मनाया। इस दिन उन्‍होंने ट्वीट कर अपनी भावनाओं का इजहार भी किया। उन्‍होंने मां राबड़ी देवी के पैर छूकर उनका आशीर्वाद लिया। इसकी तस्‍वीर पोस्‍ट करते हुए उन्‍होंने लिखा कि रब हर एक मां को सलामत रखना, वरना हमारे लिए दिल से दुआ कौन करेगा? उन्‍होंने आगे लिखा कि मां की दुआ वक्त तो क्या नसीब भी बदल देती है। फिर भगवान से प्रार्थना करते हुए लिखा कि वे हर जन्म में इसी मां की कोख और प्यार दें।

ट्वीट में लिखी पिता लालू यादव को मिस करने की भी बात

तेज प्रताप को उम्‍मीद थी कि उनके जन्‍मदिन के अवसर पर पिता लालू प्रसाद यादव पैरोल पर रिहा होकर घर आ चुके होंगे। लेकिन ऐसा नहीं हो सका। इस कारण पिता लालू यादव को याद करते हुए उन्‍हें मिस करने की बात भी लिखी।

कोरोना प्रभावित लोगों के लिए शुरू की लालू की रसोई

तेज प्रताप यादव ने अपने जन्मदिन के अवसर पर पिता के नाम से पटना में 'लालू की रसोई' की भी शुरुआत की। बकौल तेज प्रताप, इस रसोई का मकसद लॉकडाउन और कोरोना के कारण परेशान भूखे-प्यासे व गरीब लोगों को मदद पहुंचाना है। इसके माध्‍यम से रोज करीब 500 लोगों को खाना खिलाया जाएगा। जन्मदिन के अवसर पर आरंभ इस अभियान के पहले दिन तेज प्रताप यादव ने खुद ही खाना बनाया।

  

Posted By: Amit Alok

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस