पटना [जेएनएन]। बिहार में राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) के घटक दलों भारतीय जनता पार्टी (BJP) जनता दल यूनाइटेड (JDU) के बीच की तल्‍खी की खबरें आ रहीं हैं। इस बीच बीजेपी नेता और उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी (Sushil Kumar Modi) ने एनडीए को एकजुट बताया है। साथ ही यह भी कहा है कि 2020 का विधानसभा चुनाव मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) के नेतृत्‍व में ही बीजेपी व जेडीयू मिलकर लड़ेंगे।

एनडीए को बताया एकजुट

विधानसभा में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की मौजूदगी में सुशील मोदी ने कहा कि बिहार में एनडीए अगला विधानसभा चुनाव भी नीतीश कुमार के नेतृत्‍व में ही लड़ेगा। एनडीए पूरी तरह एकजुट है। उन्‍होंने कहा कि अगले विधानसभा चुनाव में भी एनडीए की शानदार जीत तय है।

महागठबंधन को बताया डूबती नाव

सुशील मोदी ने विपक्षी महागठबंधन (Grand Alliance) पर भी जमकर तंज कसे। कहा कि महागठबंधन एक डूबती नाव है, जिसकी सवारी करना कोई नहीं चाहेगा। मानसून सत्र के दौरान विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) के सदन में नही आने को लेकर भी उन्‍होंने तंज कसा। कहा कि तेजस्‍वी 17 दिनों से सदन नही आ रहे हैं। सदन को भी पता नहीं चल रहा है कि क्या बात है।

कयासों पर लगा विराम

विदित हो कि बीते कुछ समय से बीजेपी व जेडीयू के रिश्‍तों में खटास की बात चर्चा में रही है। लोकसभा चुनाव के बाद केंद्र सरकार में जेडीयू ने शामिल होने से इनकार कर दिया। इसके बाद समय-समय पर दोनों दलों के नेता एक-दूसरे के खिलाफ बोलते रहे। हाल ही में बिहार में आरएसएस की जांच के सरकारी आदेश का पत्र लीक होने के बाद बीजेपी नेता भड़क गए। इसके बाद रविवार को बाढ़ का जायजा लेने दरभंगा गए मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार आरजेडी विधायक अब्‍दुल बारी सिद्दीकी से मिलने उनके घर गए। इन घटनाओं के कारण एनडीए में दरार की बातें कही जा रहीं थीं, लेकिन सुशील मोदी के बायान ने तमाम कयासों पर विराम लगा दिया है। 

Posted By: Amit Alok

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप