पटना, राज्य ब्यूरो। उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि 60 साल तक सत्ता की मलाई काटने वाली कांग्रेस मंडल आयोग की सिफारिशों का विरोध करने के कारण जब सत्ता से बाहर हो गई, तब मजबूरी और बेचैनी में इसने लालू प्रसाद से हाथ मिला लिया था। 

सुशील मोदी ने आज टवीट कर कहा कि अल्पमत की राबड़ी सरकार चलाने के कारण इसने सारे विधायकों को मंत्री बनवा लिया था। उन्होंने कहा अब जब राजद कांग्रेस को उसकी औकात बता रहा है, तब इसके नेता ज्यादा सीटें पाने के लिए कथित कुर्बानी  की दुहाई दे रहे हैं।

उपमुख्यमंत्री ने कहा सच तो यह है कि कांग्रेस बिहार में लालू-राबड़ी राज के कुशासन की साझा गुनहगार है। एक अन्य टवीट में मोदी ने कहा कि राज्य सरकार ने स्वास्थ्य सेवाओं के विस्तार व उन्नयन के लिए 1029 करोड़ की 182 परियोजनाओं की शुरुआत की।

उन्‍होंने कहा कि मुजफ्फरपुर में चमकी बुखार से पीडि़त बच्चों के लिए 62 करोड़ की लागत से बनने वाले 100 बेड के शिशु गहन चिकित्सक यूनिट का शिलान्यास हुआ और पटना मेट्रो के लिए 13365.77 करोड़ की परियोजना के सहमति पर दस्तखत हुए। उन्होंने कहा कि सरकार ढांचागत विकास और जन कल्याण के जो बड़े काम कर रही है, वे भी विरोधी दलों को दिखायी नहीं देते। उधर, हर दल को केवल सीएम की कुर्सी नजर आती है।

Posted By: Rajesh Thakur

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप