पटना, राज्य ब्यूरो। सोनिया गांधी को कांग्रेस के अंतरिम अध्‍यक्ष बनाए जाने से जहां बिहार कांग्रेस में खुशी की लहर है, वहीं विरोधी इस पर चुटकी ले रहे हैं। कांग्रेस के खिलाफ उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने रविवार को खुलकर हमला किया है।

सुशील मोदी ने कहा कि कांग्रेस पार्टी को एक विफल गांधी का इस्तीफा स्वीकार करने में ढाई महीने लगे और किसी गैर-गांधी को कमान सौंपने की प्रचारित इच्छा के बावजूद इसने सोनिया गांधी को अंतरिम अध्यक्ष चुन लिया। वह आजीवन भी इस पद पर रह सकती हैं, क्योंकि पूर्णकालिक अध्यक्ष के चुनाव के लिए कोई समय सीमा ही नहीं तय की गई है। कांग्रेस पार्टी में अब केवल अंतरिम लोकतंत्र बचा है। 

उन्‍होंने कहा कि राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस ने 17वीं लोकसभा का चुनाव लड़़ा। उनकी ही टीम ने टुकड़े-टुकड़े गैंग के इशारे पर देशद्रोह और तीन तलाक पर रोक जैसे कानून खत्म करने का वादा घोषणा पत्र में शामिल किया था।

उपमुख्‍यमंत्री ने कहा कि देशभक्त जनता ने राहुल गांधी की नीयत को नाकाम करने के लिए कांग्रेस को बुरी तरह पराजित किया, लेकिन कार्यसमिति के प्रस्ताव में हार के जिम्मेदार राहुल की तारीफ करते हुए उनके अद्वितीय नेतृत्व के प्रति कृतग्यता प्रकट की गई। व्यक्ति केंद्रित पार्टी खुद अपने पतन के प्रस्ताव लिखती है और दोष ईवीएम पर मढ़ती है।

 

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Rajesh Thakur

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप