पटना, जेएनएन। सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में बीते कुछ समय से उनके साथ रहने वाला उनका करीबी सिद्धार्थ पिठानी (Siddharth Pithani) भी संदेह के घेरे में आ गया है। पटना पुलिस उसे पूछताछ के लिए खोजती रही, लेकिन वह नोटिस मिलने के बाद भी बगैर किसी सूचना के हैदराबाद भाग गया है। बीते 14 जून को सुशांत की मौत के समय सिद्धार्थ वहां था और उसने ही सुशांत के बंद बेडरूम की चाबी बनवाई थी। सुशांत से उसकी ही आखिरी बार बात भी हुई थी। इस बीच सिद्धार्थ ने मुंबई पुलिस को ई-मेल भेजकर बताया कि सुशांत का परिवार उसपर सुशांत की गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती के खिलाफ बयान देने के लिए दबाव बना रहा है।

यह भी देखें: एक्ट्रेस रिया चक्रवर्ती को ED का समन, 7 अगस्त को होगी पूछताछ

सिद्धार्थ से भी पूछताछ करना चाहती है पटना पुलिस

विदित हो कि सुशांत सिंह राजपूत की मौत 14 जून को मुंबई के बांद्रा स्थित उनके फ्लैट में हो गई थी। इस मामले में मुंबई पुलिस की जांच से सुशांत का परिवार संतुष्‍ट नहीं है। सुशांत के पिता केके सिंह ने बेटे की गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती पर धन उगाही, ब्‍लैकमेल, प्रताड़ना व सुसाइड के लिए उकसाने आदि के गंभीर आरोप लगाते हुए पटना में एफआइआर दर्ज करा दी। पटना पुलिस इस एफआइआर के तहत दर्ज मामले की जांच के लिए मुुंबई गई है, जहां उसने सुशांत से जुड़े कई लोगों के बयान दर्ज किए हैं। पटना पुलिस सिद्धार्थ व रिया से भी पूछताछ करना चाहती थी, लेकिन दोनों उससे बचते रहे। अब गुरुवार को पटना पुलिस की टीम वापस भी लौट चुकी है।

पुलिस से बचकर हैदराबाद गया सिद्धार्थ, उठे सवाल

पटना पुलिस सिद्धार्थ के साथ संपर्क करना चाहती थी। उसने चार दिन पहले पटना पुलिस को बयान देने को लेकर मोबाइल पर संपर्क भी किया था। लेकिन अब उसका पुलिस से बचते हुए मुंबई से बाहर चले जाना सवाल खड़े करता है। मिली जानकारी के अनुसार वह हैदराबाद भाग गया है।

सुशांत से आखिरी बात, जानना चाहती थी पुलिस

सुशांत व सिद्धार्थ की मुलाकात एक कॉमन फ्रेंड के जरिए हुई थी। फिर वह सुशांत के लिए काम करने लगा। फिलहाल वह सुशांत के साथ उनके फ्लैट में ही रहता था। सुशांत की आखिरी बातचीत उनसे ही 13 जून की रात में करीब एक बजे हुई थी। पुलिस यह जानना चाहती थी कि आखिर जीवन के अंतिम दौर में सुशांत ने उनसे ही बात क्‍यों की और क्‍या कहा? उस बातचीत में सुशांत की मौत के राज छिपे हो सकते हैं।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस