पटना सिटी : वार्ड 52 अंतर्गत राजाघाट की उच्च क्षमता वाली पेयजल आपूर्ति बोरिग तीन दिनों से बंद है। दर्जनों मोहल्लों में मंगलवार को भी पानी के लिए हाहाकार मचा रहा। जल पर्षद की इस नव निर्मित बोरिग का रख-रखाव अभी ठेकेदार के जिम्मे है। ठेकेदार का कहना है कि बोरिग चलाकर ऑपरेटर के घंटों कहीं चले जाने के कारण ही यह बोरिग बार-बार खराब हो रही है। पंप का चार नट टूट गया है। चार पाइप बदलने का काम देर शाम तक जारी रहा। ठेकेदार ने देर रात तक बोरिग चालू करने की बात कही है।

प्रभावित क्षेत्र के नागरिकों ने बताया कि राजाघाट स्थित पेयजल आपूर्ति बोरिग रविवार से ही बंद है। सोमवार को इसे ठेकेदार के कर्मियों ने खोला तो कई खराबी सामने आई। मंगलवार को तीसरे दिन भी आलमगंज, लोहरवाघाट, केदारनाथ मठ लेन, बंगाली टोला, गायघाट, चांद कॉलोनी, बागभूंप सिंह लेन, आलमगंज चौकी, बबुआगंज समेत अन्य मोहल्लों में पेयजल संकट गहराया रहा। लोग पानी के लिए भटकते नजर आए। जबकि कुछ लोग खरीद कर पानी मंगाया।

नागरिकों का आरोप था कि बोरिग संचालन एवं रख-रखाव ठीक से नहीं होने के कारण आए दिन खराबी आ रही है। निजी बोरिग वाले घरों से लोग पानी लेते नजर आए। नागरिकों ने बताया कि बोरिग चालू कर ऑपरेटर हमेशा फरार रहता है। इस ओर जनप्रतिनिधि भी ध्यान नहीं देते। शीघ्र नगर निगम प्रशासन इसपर कदम नहीं उठाता तो सड़क पर उतरकर आंदोलन किया जाएगा।

- दर्जनों मोहल्लों में पानी के लिए मचा रहा हाहाकार

- ऑपरेटर की लापरवाही से बार-बार खराब हो रही बोरिग

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस