पटना, जेएनएन। राजधानी पटना के कंकड़बाग थानांतर्गत चांदमारी रोड नंबर-आठ में किराए के मकान में रहकर मेडिकल प्रवेश परीक्षा की तैयारी करने वाली छात्रा ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। जानकारी पुलिस को सोमवार की शाम तब हुई, जब छात्रा का चचेरा भाई पटना पहुंचा। थानाध्यक्ष अजय कुमार ने बताया कि 18 वर्षीया पिंकी कुमारी के शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया। घटनास्थल से कोई सुसाइड नोट बरामद नहीं हुआ है। बताया गया कि लॉकडाउन के कारण वह घर नहीं जा सकी थी। इस कारण काफी तनाव में रहती थी।

मूलरूप से पश्चिम चंपारण की रहने वाली पिंकी चांदमारी रोड नंबर-आठ में किराए पर कमरा लेकर भाई के साथ रहती थी। वह यहां एक कोचिंग इंस्टीट्यूट से मेडिकल प्रवेश परीक्षा की तैयारी कर रही थी। लॉकडाउन से पहले उसका भाई घर चला गया था, जबकि वह फंसी रह गई। पिंकी ने रविवार की रात मां से आखिरी बार फोन पर बात की। वह काफी रो रही थी और मां को बुला रही थी।

पूछने पर कहा था कि लॉकडाउन के कारण अकेले यहां मन नहीं लगता। सोमवार की सुबह जब कई बार कॉल करने पर पिंकी ने रिसीव नहीं किया तो चचेरा भाई कमरे पर देखने गया। कमरे का दरवाजा अंदर से बंद था। देर तक खटखटाने के बाद भी जवाब नहीं मिला तो पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस के सामने दरवाजा तोड़ा गया। अंदर दुपट्टे के सहारे पंखे की खूंटी से पिंकी का लटका शव मिला। 

Posted By: Rajesh Thakur

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस