पटना [जेएनएन]। जेट एयरवेज बंद होने की त्रासदी बिहार के लोगों को भी झेलनी पड़ रही है। बिहार के करीब 31 हजार यात्रियों के हवाई टिकट का पैसा फंस गया है। जेट में 25 मार्च से 30 जून के बीच पटना से दिल्ली, मुंबई व इलाहाबाद जाने के लिए 41 हजार से अधिक यात्रियों ने अग्रिम टिकट बुक कराया था। इसमें 18 मार्च से 25 मार्च के बीच करीब 10 हजार यात्रियों को रिफंड दे दिया गया है। कुछ का रिफंड जारी होने पर कार्रवाई हो रही है। अब भी 31 हजार से अधिक यात्री अपने टिकट को लेकर असमंजस में हैं। उनका पैसा लौटेगा भी या नहीं, इस पर अनिश्चितता बनी हुई। 

यात्रियों के साथ कर्मचारी-अधिकारी भी परेशान 

पटना एयरपोर्ट पर जेट एयरवेज के कर्मचारी व अधिकारी लगातार काउंटर पर बैठकर यात्रियों की समस्याओं का निराकरण करते दिख रहे हैं। जेट एयरवेज पर आर्थिक संकट आने से परेशानी कर्मचारियों व अधिकारियों को भी हो रही। जेट एयरवेज के पटना एयरपोर्ट पर 25 कर्मचारी कार्यरत हैं। इसके साथ 27 ग्राउंडमेन भी हैं। कर्मचारियों व अधिकारियों को पिछले तीन माह से तथा ग्राउंडमैन को पिछले दो माह से वेतन नहीं दिया गया है। बावजूद सारे कर्मचारी व ग्राउंडमैन मुस्तैदी से ड्यूटी पर तैनात हैं। 

पटना एयरपोर्ट पर यात्री भी ले रहे संयम से काम 

जेट एयरवेज काउंटर पर तैनात प्रबंधन से जुड़े अधिकारियों ने बताया कि यात्रियों का पूरा सहयोग मिल रहा है। कोई यात्री हंगामा नहीं कर रहा है। काउंटर से कोई बुकिंग नहीं हो रही है, इसके कारण टिकट की वापसी कैश में नहीं की जा रही है। जिन लोगों ने एजेंट से टिकट बुक कराया है, उनके टिकट पर फ्लाइट कैंसिल लिख एजेंट के पास भेज दिया जा रहा है। एजेंट उन्हें पूरी राशि वापस कर दे रहे हैं। जिन यात्रियों ने क्रेडिट कार्ड अथवा एटीएम कार्ड से टिकट बुक कराया है, उन्हें तीन से सात दिनों के अंदर उनके बैंक खाते में पैसा भेज दिया जा रहा है। पोर्टल से टिकट बुक कराने वालों को भुगतान में थोड़ा अधिक समय लग रहा है। 

दूसरे विमानों का किराया छू रहा आसमान  

जेट एयरवेज के बंद होने से दूसरे विमानों पर भी काफी असर पडऩे लगा है। दूसरे विमानों का किराया आसमान छूने लगा है। पटना से दिल्ली का करेंट टिकट पहले जहां चार से पांच हजार रुपये के अंदर मिल जाता था, वह अब 10 से 12 हजार रुपये में भी नहीं मिल पा रहा है। दूसरी विमान कंपनियां इसका फायदा उठा रही हैं।

Posted By: Rajesh Thakur

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस