पटना सिटी : तख्त श्रीहरिमंदिर जी पटना साहिब के जत्थेदार ज्ञानी रंजीत सिंह गौहर-ए मस्कीन और गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष सरदार अवतार सिंह हित की वाई प्लस सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए सोमवार को तख्त साहिब के हाल में बैठक हुई। सीआरपीएफ के असिस्टेंट कमांडेंट के नेतृत्व में सख्त सुरक्षा के बीच हुई बैठक में एडीएम विधि व्यवस्था केके सिंह, एसडीओ मुकेश रंजन, डीएसपी अमित शरण समेत कई सुरक्षा एजेंसी के अधिकारी थे। अधिकारियों ने तख्त साहिब की मौजूदा सुरक्षा व्यवस्था पर भी बातचीत की। जत्थेदार और अधीक्षक के कमरों के साथ गुरुद्वारा परिसर का मुआयना किया गया।

एडीएम विधि व्यवस्था केके सिंह ने बताया कि तख्त साहिब से सुरक्षा व्यवस्था को लेकर हुई बैठक की रिपोर्ट गृह मंत्रालय को भेजी जाएगी। उन्होंने कहा कि जत्थेदार और अध्यक्ष को वाई प्लस श्रेणी की सुरक्षा के तहत सीआरपीएफ की तैनाती होगी। अधिकारियों के रहने वाले स्थल तीसरी मंजिल पर सुरक्षा सख्त होगी। दोनों ओर से जवान तैनात रहेंगे। निजी सुरक्षा व्यवस्था नहीं होगी। तीसरी मंजिल पूरी तरह से प्रतिबंधित क्षेत्र होगा। भूतल के पूछताछ काउंटर के समीप वाकी-टाकी या इंटरकाम से बातचीत करने और सुरक्षा सुनिश्चित होने के बाद ही किसी को तीसरी मंजिल पर जाने की इजाजत दी जाएगी। एडीएम ने बताया कि जत्थेदार एवं अध्यक्ष के वाहन की पार्किंग भी अलग होगी। यह आइसोलेशन जोन होगा। उन्होंने कहा कि तख्त साहिब की सुरक्षा व्यवस्था पहले से ही चौकस है। इसे अभेद्य बनाया जाएगा। यह विशेष स्थल है।

- वाई प्लस सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित करने को सीआरपीएफ के साथ पुलिस-प्रशासन की अहम बैठक

एडीएम बोले- कार्यालय भवन की तीसरी मंजिल होगा प्रतिबंधित क्षेत्र, गृह विभाग को भेजी जाएगी रिपोर्ट

Edited By: Jagran