पटना, जागरण संवाददाता। पटना एयरपोर्ट पर शुक्रवार को फ्लाइट पकड़ने आई एक युवती की सैंडिल में बैटरी युक्त जीपीएस और सिम कार्ड मिलने से पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। सूचना मिलते ही आतंकी निरोधक दस्ता (एटीएस), स्पेशल ब्रांच, आइबी समेत राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़ी कई एजेंसियों के अधिकारी उक्त युवती से पूछताछ करने हवाई अड्डा थाना पहुंच गए। पुलिस अधिकारियों को आशंका है कि युवती के संबंध आतंकियों से हो सकते हैं। युवती के मोबाइल से मिले नंबरों की लोकेशन लेकर सचिवालय एएसपी काम्या मिश्रा के नेतृत्व में एक टीम विभिन्न इलाकों में छापेमारी कर रही है। एसएसपी डा. मानवजीत सिंह ढिल्लों ने मामले की पुष्टि की। उन्होंने बताया कि उससे पूछताछ करने के लिए कई एजेंसियों के अधिकारी आए हैं। मामले की छानबीन की जा रही है।

मां के साथ रहती है सुल्तानगंज में 

युवती ने अपना नाम सनौव्वर खान बताया है। उसकी उम्र करीब 20 वर्ष बताई जा रही है। पूछताछ में उसने बताया कि वह अविवाहित है पटना के सुलतानगंज इलाके में मां के साथ रहती है। पुलिस की एक टीम उसके घर गई है। घर की तलाशी ली जा रही है। युवती का कहना है कि यहां वह किराए पर रहती है। युवती ने बताया कि उसके सौतेले पिता बेंगलुरु में रहते हैं। वह उन्हीं से मिलने वहां जा रही थी। उसने इंडिगो की फ्लाइट से बेंगलुरु के लिए टिकट बुक कराई थी। युवती का कहना है कि उसके सौतेले पिता बेंगलुरु में व्यापार करते हैं। हालांकि, वे किस तरह का कारोबार करते हैं, इसके बारे में उसे कोई जानकारी नहीं है।

सीआइएसएफ के जवानों ने चेकिंग के दौरान पकड़ा

हवाई अड्डा थानाध्यक्ष अरुण कुमार के मुताबिक, शुक्रवार की दोपहर करीब दो बजे युवती लोकनायक जयप्रकाश नारायण एयरपोर्ट पर बेंगलुरु की फ्लाइट लेने आई थी। चेक-इन के बाद वह सिक्योरिटी होल्ड एरिया में गई। वहां सीआइएसएफ के जवानों ने सुरक्षा जांच के दौरान उसके हैंड बैग को स्कैन किया। स्कैनिंग में उसके बैग में संदिग्ध सामान होने की जानकारी मिली। बैग को खुलवा कर देखा गया तो उसमें एक जोड़ी सैंडिल थी। सैंडिल के सोल में जीपीएस युक्त डिवाइस में सिम लगा था। जहां मशीन लगी थी, उसे सिलकर छिपा दिया गया था। जब इसके बारे में उससे पूछा गया तो उसने कुछ भी स्पष्ट नहीं बताया। जिसके बाद घटना की सूचना वरीय अधिकारी को देने के साथ छानबीन के लिए युवती को पुलिस के हवाले कर दिया। 

Edited By: Vyas Chandra