पटना [अरविंद शर्मा]। रेल होटल घोटाला के मामले में लालू प्रसाद के 12 ठिकानों पर सीबीआइ छापे के बाद पटना में उनके आवास के बाहर तीसरे दिन भी सन्‍नाटा पसरा है। बाहर सुरक्षा कड़ी है और मेन गेट पर मीडिया को भी नहीं जाने दिया जा रहा है। हालांकि, अंदर गहमा-गहमी है। लालू के भरोसेमंद नेताओं का आना-जाना लगा है।

इस बीच लालू ने इस मामले में लंबी कानूनी लड़ाई की तैयारियां भी आरंभ कर दी हैं। चारा घोटाला में उनके अधिवक्‍ता चितरंजन सिन्‍हा लंबे समय तक लालू आवास के अंदर रहे। अन्‍य अधिवक्ताओं की आवाजाही भी जारी रही। सूत्र बताते हैं कि लालू ने दिल्‍ली में सुप्रीम कोर्ट के वरीय अधिवक्‍ता राम जेठमलानी से भी बात की।

मिलने वालों का लगा रहा तांता

लालू प्रसाद के आवास पर शनिवार देर रात भी राजद व कांग्रेस नेताओं का आना-जाना लगा रहा। हालांकि, जदयू नेताओं को वहां नहीं देखा गया, लेकिन पूर्व मंत्री रमई राम पहुंचे। रमई जदयू के वरिष्ठ नेता हैं। नीतीश कुमार की पूर्व सरकार में मंत्री भी थे।

लालू से मिलने वाले अन्य बड़े राजद नेताओं में पार्टी उपाध्‍यक्ष रघुवंश प्रसाद सिंह, पूर्व सांसद शिवानंद तिवारी, राजद के प्रदेश अध्यक्ष रामचंद्र पूर्वे, प्रधान महासचिव मुंद्रिका सिंह यादव, मुख्य प्रदेश प्रवक्ता शक्ति सिंह यादव, प्रगति मेहता, चितरंजन गगन, प्रदेश महिला प्रकोष्ठ अध्यक्ष आभालता, मंत्री आलोक मेहता, शिवचंद्र राम एवं सपा के प्रदेश अध्यक्ष देवेंद्र प्रसाद यादव थे।

रात में ही बुलाए गए वकील
रांची से लौटते ही लालू प्रसाद ने सबसे पहले सीबीआइ द्वारा जब्त सामान-दस्तावेज की जानकारी ली। पार्टी से जुड़े वकीलों की एक टीम देर रात लालू के आवास पर बुलाई गई। लालू ने उनसे विभिन्न पहलुओं पर बात की। शनिवार को लालू ने अपनी पार्टी के सांसद एवं वकील राम जेठमलानी से कई बार बात की। दिल्ली में शनिवार को बेटी मीसा भारती के फॉर्म पर प्रवर्तन निदेशालय के छापे को लेकर जेठमलानी से बात हुई।

दिल्ली वाले छापे पर थी नजर 
लालू के पटना वाले घर पर नई दिल्ली में सांसद मीसा भारती के फॉर्म हाउस में प्रवर्तन निदेशालय के छापे का प्रभाव भी दिखा। लालू और उनके परिवार के लोग दिल्ली का हालचाल लेते देखे गए। शुक्रवार रात में मीसा से बात हुई थी, लेकिन दिन में फोन ऑउट ऑफ रिच था। कई बार प्रयास किया गया। मुलाकातियों के बीच भी आज इसकी ही चर्चा थी। परिसर के कर्मचारी टीवी पर लाइव देखकर राजद प्रमुख को अपडेट कर रहे थे।

यह भी पढ़ें: तेजस्‍वी से इस्‍तीफा मांग रही BJP, राजद का पलटवार- पहले उमा भारती से लो

आवाजाही, कानाफूसी जारी

रविवार को सुबह सात बजे ही लालू आवास का मुख्य गेट खुल गया है। घर के बाहर मीडिया मौजूद है, लेकिन उसे मुख्‍य गेट से अलग रखा गया है। मेन गेट पर सन्‍नाटा है, लेकिन आसपास नेता-कार्यकर्ता हैं। वे कह रहे हैं कि केंद्र सरकार की कार्रवाई का रैली से जवाब देना है।

यह भी पढ़ें: CBI Raid में लालू के खिलाफ मिले सबूत, अब पूछताछ व गिरफ्तारी की आशंका

Posted By: Amit Alok