मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

पटना [जेएनएन]। लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) सुप्रीमो व केंद्र की नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) सरकार में सबसे उम्रदराज मंत्री रामविलास पासवान (Ram Vilas Paswan) का शुक्रवार को राज्‍यसभा के लिए निर्वाचन हो गया। उन्‍होंने केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद (Ravi Shankar Prasad) के लोकसभा में निर्वाचन के बाद उनकी खाली हुई सीट के लिए नामांकन पत्र भरा था, जिसके लिए वे इकलौते प्रत्याशी थे।
राज्‍यसभा के लिए निर्विरोध निर्वाचित
केंद्रीय मंत्री और एलजेपी प्रमुख राम विलास पासवान शुक्रवार को निर्विरोध राज्यसभा सदस्य निर्वाचित घोषित कर दिए गए। विधानसभा के सचिव और निर्वाची अधिकारी बटेश्वर पांडेय ने पासवान को प्रमाण पत्र दिया। इस दौरान बिहार के मुख्य निर्वाचन अधिकारी एचआर श्रीनिवास भी मौजूद थे। पासवान का कार्यकाल अप्रैल, 2024 तक रहेगा।
राज्यसभा में एलजेपी का खुला खाता
इसके साथ ही राज्यसभा में एलजेपी का खाता फिर से खुल गया। पासवान को प्रमाणपत्र दिए जाने के समय उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी और श्रम नियोजन मंत्री विजय सिन्हा के अलावा बिहार सरकार के कई मंत्री भी मौजूद थे। वहीं इस दौरान पासवान की पत्नी भी साथ रहीं।
सरकार कोई भी हो, मंत्री जरूर रहे पासवान
विदित हो कि तीन दशक में जिन कुछ क्षेत्रीय दलों के महारथियों ने सत्ता के सबसे निपुण दांव चले, उनमें रामविलास पासवान शामिल रहे हैं। सरकार कोई भी हो, राम विलास पासवान मंत्री जरूर रहे। वे केंद्र की वर्तमान नरेंद्र मोदी सीकार में भी उपभोक्‍ता संरक्षण व खाद्य मंत्री बनाए गए हैं। रामविलास पासवान इस बार राज्‍यसभा सांसद बने हैं।

Posted By: Amit Alok

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप