पटना [राज्य ब्यूरो]। शनिवार के दिन पटना का अंदाज शाही रहा। राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के घर राजनीतिक गहमागहमी रही। सियासत के दो प्रमुख घरानों के दल और दिल तो पहले से एक थे, अब रिश्ते की डोर में भी बंधने जा रहे हैं।
राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव के बड़े पुत्र तेजप्रताप यादव एवं पूर्व मुख्यमंत्री दरोगा प्रसाद राय की पोती ऐश्वर्या राय की पहचान एक हो हो गई। शादी की खुशियों में लालू को छह हफ्ते के लिए मिली जमानत ने भी चार चांद लगा दिया है। परिवार, रिश्तेदार एवं राजद समर्थकों की खुशियां बढ़ गई हैं। 
खातिरदारी की भव्‍य व्‍यवस्‍था
लालू की जमानत के बाद अब पूरा फोकस शादी को यादगार बनाने की पूरी कोशिश की गई। मेहमानों की खातिरदारी की भव्य व्यवस्था की गई। आवास परिसर एवं पंडालों की चकाचौंध सजावट चमत्कृत करनेवाले हैं। सजावट की जिम्मेवारी बिहार इवेंट ग्रुप की निदेशक शिखा कुशवाहा ने खुद संभाली। स्टेज के डेकोरेशन के लिए कोलकाता से फूल मंगाए गए हैं। राजस्थान की शहनाई एवं मेरठ के भांगड़ा ग्रुप ने संगीत के जरिए शादी के माहौल को मस्त बना दिया है। अतिथियों की खातिरदारी के लिए बनारस की चाट और गाजियाबाद की कुल्फी खास होगी। छोटू छलिया का संगीत तो पिछले पांच दिनों से धूम मचा ही रहा है। 
तैयारियों पर लालू की नजर
रांची से आते ही लालू ने गुरुवार को ही आमंत्रित अतिथियों के बारे में जानकारी ली थी। किसे-किसे न्योता गया है, कौन बाकी रह गया, पूरी सूची तलब की। घरेलू मेहमानों को पांच देशरत्न मार्ग में भी ठहराने की व्यवस्था की गई है। राजद प्रमुख ने खुद शादी की तैयारियों का जायजा लिया। तैयारियों पर उनकी नजर लगातार बनी हुई है।
ये अतिथि होंगे खास
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पहली बार लालू प्रसाद के घर आने वाले थे। लेकिन किसी वजह से वे नहीं आ पाये। पिछले हफ्ते उन्होंने दिल्‍ली एम्स में इलाजरत लालू से मुलाकात करके हालचाल लिया था। उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और बिहार मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शादी समारोह में शिरकत की।
बाबा रामदेव ने दी योग की सलाह, कही ये बात
बीमार लालू को देखने दोपहर बाद बाबा रामदेव भी पहुंचे। उन्होंने भी माना कि लालू की सेहत खराब है। स्वस्थ रहने के लिए रामदेव ने लालू को अनुलोम-विलोम करने की सलाह दी। जरूरत पडऩे पर अपना एक सहयोगी भेजने की बात भी कही है।
रामदेव ने कहा कि लालू को परेशान किया जा रहा है। वे आतंकवादी नहीं हैं कि पेरोल देने में भी परेशानी हो रही थी। राजद प्रमुख से मुलाकात के बाद बाबा उनके होने वाले समधी चंद्रिका राय के आवास भी गए और ऐश्वर्या को आशीर्वाद दिया। लालू ने भी फोन पर अपनी बहू से बात की। उन्होंने ऐश्वर्या को भाग्यशाली बताया और कहा कि उसके पैर पड़ते ही सबकुछ शुभ होने लगा है। 
25 हजार से ज्यादा मेहमान
लालू प्रसाद के करीबी विधायक भोला यादव ने दावा किया कि शादी में 25 हजार से ज्यादा लोगों के शामिल होने की उम्मीद है। बंदोबस्त भी उसी हिसाब से है। प्रशासन की ओर से भी वीवीआइपी मेहमानों की सुरक्षा की पुख्ता व्यवस्था है। दो सौ से ज्यादा पुलिस जवान तैनात रहेंगे। मौसम को देखते हुए वेटनरी कॉलेज परिसर में भी वाटर प्रूफ पंडाल का निर्माण किया गया है।
अलग से वीवीआइपी पंडाल भी बनाए गए हैं, जिसमें करीब पांच हजार लोगों के खाने की व्यवस्था है। वर्ष 2015 में लालू की छोटी बेटी राजलक्ष्मी एवं मुलायम सिंह के पोते तेज प्रताप की शादी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी सैफई पहुंचकर वर-वधू को आशीर्वाद दिया था। 
शाम में संगीत कार्यक्रम 
शादी की रस्मों में शामिल होने के लिए शुक्रवार शाम से ही मेहमानों का आना शुरू हो गया है। मड़वा-मटकोर की रस्म में भी शुक्रवार शाम खूब धमाल हुआ। राबड़ी के मायके के लोग तो पहले से ही आए हुए हैं। खफा चल रहे भाइयों साधु यादव एवं सुभाष यादव भी मान गए हैं। समारोह में वे भी शिरकत कर रहे हैं। उन्‍हें शनिवार को मामा के रस्म (इमली घोटाई) को निभाना है।
महिला संगीत एवं हल्दी के कार्यक्रम भी हुए। घर की महिलाओं ने मंगल गीत गाए। इसके पहले मेहंदी की रस्म हुई थी। तेज प्रताप की मां राबड़ी देवी, सभी बहनों ने महिला संगीत की मेजबानी की। 

Posted By: Kajal Kumari