पटना, जेएनएन। बाहुबली विधायक अनंत सिंह की मुसीबत कम नहीं हो रही है। दो आपराधिक मामलों में उनके खिलाफ प्रोडक्शन वारंट जारी किया गया है। शुक्रवार को एमपी-एमएलए कोर्ट के विशेष न्यायाधीश ने बेउर जेल प्रशासन को दोनों मामले में 29 नवंबर को अनंत सिंह को पेश करने का निर्देश दिया है। एक अन्य तीसरे मामले में विधायक की ओर से कोर्ट के विशेष न्यायिक दंडाधिकारी की अदालत में नियमित जमानत आवेदन दायर किया गया। इस पर सुनवाई शनिवार यानी 16 नवंबर को होगी। 

प्रोडक्शन वारंट का पहला मामला सचिवालय थाने से जुड़ा है। घटना 2015 की है। मोकामा विधायक के पटना स्थित सरकारी आवास पर पुलिस की टीम ने छापा मारा था। आवास से इंसास रायफल, छह मैगजीन और विदेशी बुलेट प्रूफ जैकेट बरामद हुआ था। वहीं दूसरा मामला बाढ़ थाने से जुड़ा है। इसमें बाढ़ पुलिस ने 10 अप्रैल 2004 को विधायक के पैतृक मकान पर छापामारी की थी, जिसमें दोनों ओर से फायरिंग हुई थी। विधायक के घर से बैग, रस्सी जिससे आर्म्स साफ किया जाता है तथा प्रतिबंधित हथियार एके- 47 बरामद हुआ था।

जिस मामले में जमानत का आवेदन दायर किया गया है वह पंडारक थाने से जुड़ा है। यह 15 जुलाई 2019 को दर्ज किया गया था। घटना भी इसी दिन का है। पंडारक पुलिस ने लेमुआ के पास से गोलू, मोहम्मद छोटू और राजवीर को पकड़ा था। इनके पास से हथियार बरामद हुआ था। पूछताछ के क्रम में पकड़े गये एक आरोपित ने पुलिस को बताया था कि अनंत सिंह के निर्देश पर विधायक का गुर्गा विकास सिंह जो जहानाबाद का रहने वाला है और पटना में उनके सरकारी आवास पर रहता है, उसके द्वारा हथियार पंडारक निवासी भोला सिंह और मुकेश सिंह की हत्या करने के लिए दिया गया था। 

Posted By: Rajesh Thakur

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप